Bhukhe Lund Ko Bhabhi Ki Chut Ka Darshan Hua – भूखे लंड को भाभी की चूत

Bhukhe Lund Ko Bhabhi Ki Chut Ka Darshan Hua

हेल्लो मेरे प्यारे दोस्तों कैसे हो आप सब मैं समीर उम्मीद करता हूँ कि आप सब बढ़िया होगे और जिंदगी के मज़े लूट रहे होगे | दोस्तों मैं झाँसी का रहने वाला हूँ और मुझे काफी सारी चीज़ें करना पसंद है जैसे कार्टून देखना पढ़ना और चूत के दर्शन करना | दर्शन से मेरा मतलब है मैं अपने लंड को चूत के अन्दर भेज कर उसके दर्शन करता हूँ जब तक अमृत बाहर ना निकल जाए | तो दोस्तों यही है मेरी जिंदगी का नियम और मैं हर बार इसे अपनी जिंदगी में लागू करता हूँ चाहे मैं कहीं भी रहीं | मुझसे कई लोग मिलते हैं कहते हैं भाई चूत नहीं मिल रही कोई जुगाड़ लगवा दे तो मैं ऐसे लोगो की मदद कर देता हूँ पर एक चीज़ हमेशा कहता हूँ कि चूत हमारे आस पास ही है बस उसे ढूँढने की ज़रूरत है | खैर रही मेरी बात तो मुझे चूत की कोई कमी नहीं है क्यूंकि अगर कोई न मिले तो मैं रंडी से भी काम चला लेता हूँ | मैं जब चाहता हूँ चूत तब मेरे सामने हाज़िर हो जाती है और ये मेरा घमंड नहीं है ये मेरा स्टाइल है कि मैं लड़कियों को इतने अच्छे से हैंडल कर लेता हूँ | Bhukhe Lund Ko Bhabhi Ki Chut Ka Darshan Hua.

दोस्तों ये हुई मेरी बात अब मैं आता हूँ अपने परिवार में जिसमे तीन लंड और दो चूत हैं | जी मैं हूँ और मेरा भाई है और मेरे पापा हैं तो ये हो गए तीन लंड | मम्मी हैं और एक भाभी हैं ये हो गयी दो चूत | बस 5 लोग हैं हम और अपना मस्त चलता रहता है क्यूंकि भाभी यानी मोटी चूत वाली भी मुझसे चुद्वाती है क्यूंकि भैया को गुप्त रोग है पर उनको भी प्यार करती है | अब भाभी का नाम आ ही गया है तो सुन ही लो उनकी दास्तान | हुआ ये कि भाई की शादी हुई थी दो साल पहले और वो बिलकुल ठीक था पर साला ठरकी भी था | उसकी लाइफ मस्त चल रही थी भाभी भी खुश सब खुश और मैं तो डबल खुश क्यूंकि अपन चाचा बनने वाले थे | अब और इससे ज्यादा क्या चाहिए किसी को तो मैं भी उसी बिरादरी का इंसान हूँ | भाभी एक दम कड़क माल था और मेरा ऐसा था कि जब चाहा भाभी से बात कर ली और जब चाहा घर से निकल लिए चूत चोदने | कोई मना भी नहीं करता था क्यूंकि पापा और मम्मी दोनों फाड़ के कमाते थे |             “Bhukhe Lund Ko Bhabhi”

 

मस्त हिंदी सेक्स स्टोरी : Bhai Ki Dulhan Ki Kunwari Chut Pela Maine

तो एक बार की बात है मेरा भाई रात को देर से घर आया और किसी से कुछ नहीं कहा भाभी से भी बिना बनात किये कमरे में गया और सो गया | मैं तो समझ गया था कि ये ऐसा इसलिए कर रहा है ताकि किसी को पता न चले कि ये चुदाई करे आया किसी और औरत की | मैं भी पतली गली से निकल लिए नहीं तो सब लोग मुझसे पूछने लगते कि क्या हुआ है इसको | मैं गया अपने कमरे में कूलर चालु किया और चद्दर तान के सो गया | उसके बाद जब सुबह हुई तो मैंने देखा मेरा भाई मेरे कमरे में है और रो रहा है | मैं तुरंत उठा और पूछा क्या हुआ बे तुझे चूत मारने से पहले तो सोचा नहीं अब क्यूँ रो रहा है | वो चुप ही था फिर मैंने कहा साले इतनी माल बीवी है उसको चोद बेमतलब में बाहर मुंह मारता है गांडू साले | वो मेरे पास आया और कहा अब मैं किसी को नहीं चोद पाऊंगा | मेरा दिमाग सन्न हो गया और मैंने पूछा क्यों ऐसा क्या हुआ तेरे साथ ? उसने कहा कल रात मैं एक लड़की के साथ था |                “Bhukhe Lund Ko Bhabhi”

मैंने कहा फिर क्या हुआ ? तो उसने बताया जैसे ही मैंने उसको चोदने के लिए किया तो उसने मुझे बेहोश कर दिया और मेरे लंड पे ना जाने क्या लगा दिया साला खड़ा ही नहीं हो रहा | मैंने कहा बस इतनी सी बात से क्यूँ  डर रहा है बे चल अपन डॉक्टर के पास चलते हैं | उसने कहा मैं डॉक्टर के पास से ही आ रहा हूँ | मैंने पूछा क्या बोला डॉक्टर तो उसने कहा वो बोला अब तुमहरा लंड कभी खड़ा नहीं हो पाएगा आपके अन्दर की नस ख़राब हो गयी है | मैंने कहा वो लड़की कहाँ है उसने कहा ना जाने कहा से आई थी ना जाने कहाँ को जाएगी | मैंने कहा बस अब तू ऐसे ही रह और बेचारी भाभी का क्या होगा ? उसने कहा वही सोच के तो रो रहा हूँ बे | मैंने कहा चिंता मत कर उनको अपनी प्रॉब्लम बता वो समझ जाएगी | उसने कहा ठीक है कोशिश करता हूँ अगर मान गयी तो अच्छा है | मैंने कहा पर सुन तू बाप बनने वाला है तो शुक्र मान कि पहले ये सब नहीं हुआ तेरे साथ |                              “Bhukhe Lund Ko Bhabhi”

 

चुदाई की प्यासी लड़की की कहानी : Kunwari Bur Ki Thukai Kar Seal Todi

वो चला गया भाभी के पास और उसने अपनी सारी दिक्कत भाभी को बता दी और भाभी ने भी उसकी दिक्कत समझते हुए कुछ नहीं कहा और वो दोनों ख़ुशी से रहने लगे | मुझे बस यही चाहिए था कि सब कुछ ठीक रहे और डाइवोर्स की नौबत कभी ना आये तो वो नही हुआ | कुछ महीने बाद भाभी को बच्चा हुआ और हम सब एक दम खुश घर में ऐसा जश्न मनाया कि सब देखते रह गए | उसके बाद वही बच्चे की देखभाल और चाचा लोगों को तो ज्यादा दिक्कत होती है क्यूंकि भतीजे अगर कमरे में आ गए तो कमरे की हलक ख़राब कर देते हैं पर मुझे ये सब बहुत अच्छा लगता था | मैं कभी अपने भतीजे को किसी चीज़ के लिए मना नहीं करता था और वो भी मेरे साथ खेलता रहता था | भाभी भाई और हम सब बड़े खुश थे क्यूंकि हमे एक मस्त खिलौना मिल गया था | पर भाभी को देख के ऐसा लगता था जैसे उनके जीवन में किसी चीज़ की कमी हो गयी और मैं जानता था वो कमी किस चीज़ की थी |                                            “Bhukhe Lund Ko Bhabhi”

एक बार की बात है भाभी नन्हे को दूध पिला रही थी और वो मेरे सामने ही बैठी थी | मैंने अपने मोबाइल में कुछ देख रहा था और एक दम से मेरी नज़र उनके दूध पे पड़ गयी | मुझे लगा वो छुपा लेंगी पर उन्होंने दूसरा दूध भी बाहर निकाल लिया और उसे दबाने लगीं | मैं समझ गया भाभी मुझे किस चीज़ के लिए इशारा कर रही है | मैंने मन में सोचा अगर घर की इज्ज़त बाहर चुदेगी तो लफड़ा हो जाएगा इसलिए मैं ही इनका गेम बजा देता हूँ | मैंने भी अपना बड़ा लंड बाहर निकाला और उनके सामने हिलाने लगा | वो मुस्कुराई और उन्होंने नन्हे को सुला दिया | वो मेरे पास आई और मेरा लंड पकड़ के हिलाने लगीं और मुंह में लेके चूसने लगीं | उनके चूसने में जो आनंद आ रहा था वो मुझे अभी तक कभी नहीं आया था | जब वो मेरा लंड चूस रही थी तब मेरे मुंह से आआह्हह्हह ऊऊउह ऊऊउम्म्म्म आआह्हह्हह ऊऊउह ऊऊउम्म्म्म आआह्हह्हह ऊऊउह ऊऊउम्म्म्म आआह्हह्हह ऊऊउह ऊऊउम्म्म्म की आवाज़ निकल रही थी और मैं उनके दूध दबा रहा था | उनके दूध से निकलता हुयी धार सीधे मेरी गांड को गीला कर रही थी | मेरे लिए ये एक दम नया एहसास था |

 

अन्तर्वासना हिंदी सेक्स स्टोरीज : Madam Ne Help Ka Ehsaan Chudai Se Chukaya

उसके बाद वो मेरे ऊपर आ गई और मैंने उनके ब्लाउज को उतार दिया और उनके दूध को चूसने लगा | फिर मैंने उनको किस करना शुरू किया और वो भी मुझे मस्ती में झूमते हुए किस करने लगी | फिर मैंने उनकी साडी को उतार दिया और उनके पीट पे हाथ फेरते हुए चूत को सहलाने लगा | जैसे ही मेरी ऊँगली उनकी चूत में घुसी वो आआह्हह्हह ऊऊउह ऊऊउम्म्म्म आआह्हह्हह ऊऊउह ऊऊउम्म्म्म आआह्हह्हह ऊऊउह ऊऊउम्म्म्म आआह्हह्हह ऊऊउह ऊऊउम्म्म्म करने लगी और मेरा लंड पकड़ के जोर जोर से आगे पीछे करने लगी | फिर मैं नीचे गया और उनकी चूत पे अपना मुंग लगाके चाटने लगा और जीभ से ही चोदने लगा | जब मैं ये कर रहा था तब वो आआह्हह्हह ऊऊउह ऊऊउम्म्म्म आआह्हह्हह ऊऊउह ऊऊउम्म्म्म आआह्हह्हह ऊऊउह ऊऊउम्म्म्म आआह्हह्हह ऊऊउह ऊऊउम्म्म्म करते हुए अपनी चूत को मेरे मुंह में घुसा रही थी | मैंने उनकी चूत को करीब बीस मिनट तक चाटा और उनका सारा पानी मेरे मुंह में भर गया | उसके बाद वो उठी और मेरे लंड को अपनी चूत पर रगड़ने लगी और जैसे ही उसने मेरा लंड चूत के अन्दर लिया मुझे उसकी गर्मी का एहसास हो गया |                                          “Bhukhe Lund Ko Bhabhi”

मैं उसे उठा उठा के चोद रहा था और वो आआह्हह्हह ऊऊउह ऊऊउम्म्म्म आआह्हह्हह ऊऊउह ऊऊउम्म्म्म आआह्हह्हह ऊऊउह ऊऊउम्म्म्म आआह्हह्हह ऊऊउह ऊऊउम्म्म्म कर रही थी | उसके बाद मैंने उसको घोड़ी बनाया और पीछे से उसकी चूत को खूब चोदा | फिर मैंने सोचा चलो गांड भी मार ही लेता हूँ और मैंने अपना लंड उसकी गांड पे रखा और धीरे धीरे अन्दर बाहर करने लगा वो आआह्हह्हह ऊऊउह ऊऊउम्म्म्म आआह्हह्हह ऊऊउह ऊऊउम्म्म्म आआह्हह्हह ऊऊउह ऊऊउम्म्म्म आआह्हह्हह ऊऊउह ऊऊउम्म्म्म करते हुए मेरा पूरा साथ दे रही थी | उसके बाद मैंने अपना मुट्ठ उसके मुंह में भर दिया और फिर ये सिलसिला आगे भी चलता रहा |                                                            “Bhukhe Lund Ko Bhabhi”

कामुकता हिंदी सेक्स स्टोरी : Meri Pyasi Najar Devar Ke Lund Ke Liye

ये कहानी Bukhe Lund Ko Bhabhi Ki Chut Ka Darshan Hua आपको कैसी लगी कमेंट करे……………………………

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *