Chudai Ke Mast Maje Leti Meri Randi Aunty – चुदाई के मस्त मजे लेती रंडी चाची

Chudai Ke Mast Maje Leti Meri Randi Aunty

मेरा नाम नितेश है और में वाराणसी का रहने वाला हूँ। दोस्तों आज में आप लोगों के सामने अपनी एक सच्ची चुदाई की कहानी को सुनाने जा रहा हूँ और मुझे पूरा विश्वास है कि यह आप सभी को जरुर पसंद आएगी, लेकिन इससे पहले कि में अपनी इस कहानी को शुरू करूं में अपनी उस हॉट सेक्सी चाची के बारे में थोड़ा सा बता हूँ कि वो एकदम मस्त सुंदर होने के साथ साथ अपने गदराए हुए गोरे बदन की भी मालकिन थी, जिसको देखकर किसी का भी लंड एक ही बार में तनकर खड़ा हो जाए और अपना पानी छोड़ दे, आज में आप सभी को यह बताऊंगा कि किस तरह से उस दिन मेरी चाची को एक आदमी ने अपनी हवस का शिकार बनाया और उसने मेरी चाची की मस्त जमकर चुदाई के मज़े लिए और उन्होंने भी कुछ देर बाद उसका पूरा पूरा साथ दिया। Chudai Ke Mast Maje Leti Meri Randi Aunty.

दोस्तों यह घटना मेरे चाचा के वापस अपने गाँव चले जाने के कुछ दिन के बाद की है, क्योंकि मेरी चाची अपनी बेटी के साथ शहर में उसकी पढ़ाई की वजह से रहती थी और चाचा से गाँव जाकर चुदाई करवाने के बाद अभी चाची को वापस शहर आए कुछ दिन ही हुए थे कि उस दिन मैंने देखा कि चाची के घर पर कोई भी नहीं था वो दोपहर का समय था, इसलिए उस समय उनकी लड़की भी अपने कॉलेज जा चुकी थी। दोस्तों मेरी चाची को जब कभी भी पैसों की ज़रूरत पड़ती तो वो मेरे चाचाजी के उस दोस्त जो उनके घर के कुछ मकानों को छोड़कर कुछ दूरी पर ही रहता था, उससे पैसे लेकर अपना काम चला लेती और जब उनके पास पैसे आते तो वो उनका उधार पैसा वापस देने चली जाती। तो दूसरे दिनों की तरह अपनी बेटी को ठीक समय पर कॉलेज भेजने के बाद और अपने घर के सभी काम को खत्म करने के बाद चाची को उस दिन बाज़ार भी जाना था।

फिर में जब वहां पर पहुंचा तो मैंने अपनी चाची को कहीं जाते हुए देखा में बिल्कुल भी नहीं समझा कि चाची उस समय कहाँ जा रही थी और इसलिए में उनको बिना बताए चुपचाप उनके पीछे पीछे चल पड़ा और कुछ देर के बाद मैंने चाची को एक घर के दरवाजे पर खड़ा देखा। अब में भी वहीं पर रुक गया और अब मैंने देखा कि चाची के एक बार धीरे से बजाने पर ही तुरंत वो दरवाजा खुल गया और चाची उस मकान के अंदर झट से चली गयी। अब में वहां से धीरे धीरे थोड़ा आगे बढ़ गया और फिर में यह बात जानने की कोशिश करने लगा कि आख़िर वो बात क्या है?                                           “Chudai Ke Mast Maje”

 

मस्त हिंदी सेक्स स्टोरी : Maa Ki Antarvasna Teacher Ne Shant Ki

फिर कुछ देर बाद जब में उस मकान के पास आकर उसकी एक खिड़की के पास पहुंचा तो मैंने खिड़की से अंदर झांककर देखा कि मेरी चाची उस समय सोफे पर बैठी हुई थी और वो आदमी उस समय अपने चेहरे के बालों को साफ करने के बाद अपने चेहरे को धो रहा था और अपने चेहरे को धोने के बाद वो दूसरे रास्ते से घर के दरवाजे को बंद करके चाची के पास आ गया और चाची के पास आकर उसने चाची से पैसा देने के लिए कहा और जैसे ही चाची ने उसको पैसा देने के लिए अपने हाथ को आगे बढ़ाया तो उसने चाची के हाथ से पैसा लेकर उसी समय चाची के हाथ को पकड़ लिया और उनको अपनी तरफ खींच लिया। अब चाची को जैसे बहुत अजीब सा लगा इसलिए वो उससे बोली तुम यह क्या कर रहे है? तो वो मेरी चाची से कहने लगे कि आप अभी पूरी तरह से जवान हो, अगर आप मुझे एक बार पूरी तरह से खुश कर दो तो में यह पैसा आपसे नहीं लूँगा।

दोस्तों में अब भी उस समय वहीं एक स्टूल पर बड़े आराम से बैठ गया और अब में अंदर देखने लगा कि वो अब मेरी चाची के साथ क्या करता है? अब मैंने देखा कि वो मेरी चाची के दोनों बूब्स को धीरे धीरे दबा रहा था और चाची को समझाने की कोशिश कर रहा था, लेकिन अब मैंने देखा कि कुछ देर तक विरोध करने के बाद चाची जब शांत होने लगी तो वो अब चाची के सामने आकर चाची के होंठो को चूसने लगा, कुछ देर तक ऐसा करने के बाद उसने चाची के ब्लाउज को खोल दिया। अब मैंने देखा कि चाची भी अब अपनी तरफ से उसका पूरा पूरा सहयोग करने लगी थी और फिर मैंने देखा कि चाची के ब्लाउस को खोलने के बाद उसने चाची को खड़ा होने के लिए बोला।         “Chudai Ke Mast Maje”

फिर चाची उठकर खड़ी हो गयी और अब उसने चाची की साड़ी को उतारना शुरू किया और साड़ी को उतारने के बाद उसने चाची के पेटीकोट के नाड़े को खोल दिया और जैसे ही उनका वो नाड़ा खुला चाची का पेटीकोट नीचे आकर ज़मीन पर गिर गया। अब वो चाची को थोड़ा सा आगे बढ़ाते हुए चाची के पीछे आकर अपनी लुंगी को खोलकर खड़ा हो गया और अपने एक हाथ को चाची की गांड पर तो दूसरे हाथ से अपने लंड को मुठ मारने लगा था। उसका तनकर खड़ा हुआ लंड अब चाची की गांड में घुसने के लिए तैयार हो रहा था अब उसने अपने लंड को चाची की गांड में घुसाने का प्रयास किया और कुछ देर के बाद मैंने अपनी चाची को उसके दोनों हाथों से खुद की गांड को फैलाते हुए देखा।                                    “Chudai Ke Mast Maje”

फिर उसने चाची की कमर को पकड़कर एक झटका मार दिया और अब चाची के मुहं से निकली वो आवाज़ मेरे कानों तक पहुंच गई। अब वो अपनी कमर को आगे पीछे करके हिलाने लगा था और कुछ देर तक वो मेरी चाची की गांड को इसी तरह से धक्के देता रहा और मेरी चाची उसके हर एक झटके के साथ ही आवाज़ निकाल रही थी और कुछ देर के बाद जब चाची को खड़ा होने में समस्या होने लगी। तो उन्होंने चाची को बेड की तरफ अपना मुहं करने के लिए बोला और उसने चाची को बेड की तरफ जैसे ही घुमाया। तब मैंने ध्यान से देखा कि चाची की गांड में उसका वो लंड पूरा अंदर जा चुका था। अब चाची बेड के ऊपर अपने हाथों का सहारा लेकर झुक गयी और वो पीछे से उनकी कमर को पकड़कर ज़ोर ज़ोर से चाची की गांड में अपने लंड को तेज धक्के देकर डाल रहा था, लेकिन फिर कुछ देर के बाद वो दोनों ही शांत हो गये। अब उसने अपना लंड चाची की गांड से बाहर निकाल लिया और वो बाथरूम में चला गया।

चाची वहीं बेड पर चुपचाप लेटी रही जब वो बाथरूम से आया तो चाची भी अब अपनी जगह से उठकर बाथरूम में चली गयी और जैसे ही चाची बाथरूम से बाहर आई तो उसने चाची की चूत पर हाथ फेरते हुए वो उनसे पूछने लगा, अच्छी तरह से बिल्कुल साफ धोया है ना? चाची बोली कि हाँ जी मैंने मसल मसलकर अच्छे से धोकर चमका लिया है इतना कहकर चाची बेड पर जाकर लेट गयी और वो अब चाची की जांघो पर बैठ गया। उसके बाद उसने चाची की चूत के बालों के ऊपर अपना हाथ फेरना शुरू कर दिया और इधर चाची ज़ोर ज़ोर से अंगड़ाई लेने लगी। तो में चाची की चूत को और उसके लंड को बहुत ध्यान से देख रहा था और अब मैंने मन ही मन सोचा कि अब मुझे इन दोनों की चुदाई को देखकर बहुत मज़ा आने वाला है।                           “Chudai Ke Mast Maje”

 

चुदाई की इंडियन सेक्स कहानी : Chudasi Madam Ne College Ke Office Mein Pelwaya

फिर उसने चाची की चूत पर बहुत सारा तेल लगा दिया और अपने लंड के ऊपर भी तेल लगाया। उसके बाद मैंने देखा कि अब उसने चाची की चूत पर अपने लंड को सटा दिया और उसने एक हल्का सा झटका मार दिया, जिसकी वजह से उसके लंड का अगला हिस्सा चाची की चूत में चला गया और दर्द की वजह से चाची ने ज़ोर से चीख मारी। फिर उसने चाची से पूछा क्यों चला गया क्या अंदर? चाची दर्द से ऊफ्फ्फ्फ़ आईईईई करती हुई बोली हाँ मुझे कुछ अंदर जाता हुआ महसूस तो हुआ है, शायद यह दर्द मुझे उसके अंदर जाने की वजह से ही हुआ है। अब वो उनकी तरफ देखकर हंसते हुए चाची के दोनों बूब्स पर अपना हाथ फेरने लगा और चाची की चूत में अपने लंड को अंदर डालने के लिए झटके देने लगा और चाची उसके तेज धक्को की वजह से आईईईई माँ मर गई उफफ्फ्फ्फ़ की आवाज़ निकाल रही थी। अब वो चाची के ऊपर लेट गया और अपनी कमर को तेज झटको के साथ आगे पीछे हिलाने लगा था।               “Chudai Ke Mast Maje”

मैंने देखा कि वो अब चाची के होंठो को भी चूसने लगा था और उस समय चाची ने अपनी दोनों जाँघो को फैला दिया और वो ज़ोर ज़ोर से धक्के देकर चाची की चूत को चोदने लगा था। फिर कुछ देर में चाची की चूत में उसका पूरा लंड अंदर बाहर हो रहा था और चाची भी उसका पूरा पूरा साथ दे रही थी और मैंने देखा कि चाची अपनी कमर को ऊपर उठा उठाकर उसके साथ सुर में अपनी ताल को मिला रही थी, कुछ देर के बाद चाची ने उससे पूछा कि अब कितना बाहर है? तो वो बोला कि पूरा का पूरा अंदर जा चुका है और उसने इतना कहते हुए एक ज़ोर का झटका मार दिया और चाची के मुहं से आईईईई माँ की आवाज निकल गई और कुछ देर तक चाची इस तरह की आवाज़ हर एक धक्के पर निकालती रही।

अब उसने चाची के होंठो को चूसना शुरू कर दिया और चाची भी उसका पूरा साथ देने लगी थी। फिर करीब बीस मिनट के बाद चाची और वो धीरे धीरे शांत हो गये वो पांच मिनट तक चाची के ऊपर ही लेटे रहने के बाद उठकर उन्होंने अपने लंड को चाची की चूत से बाहर निकाल लिया और वो चाची के ऊपर से अब हट गए और चाची करीब पाँच मिनट तक वैसे ही लेटी रही। अब मैंने चाची की चूत की तरफ जब ध्यान से देखा तो पाया कि चाची की चूत बहुत फूल गई थी और उसी समय चाची की चूत को देखकर उसने कहा कि लगता है कि यह अभी भी भूखी है। फिर चाची ने मुस्कुराते हुए कहा कि आपका किराया तो कब का पूरा वसूल हो गया, वो बोला कि नहीं यह तो अभी सूद है ब्याज़ तो में बाद में कभी भी पूरा का पूरा ले लूँगा।                                 “Chudai Ke Mast Maje”

अब चाची उठकर अपने कपड़े पहनने लगी और उसके बाद वो पानी पीने के बाद उस रूम से बाहर निकलने के लिए जैसे ही तैयार हुई तो में वहां से निकलकर कहीं और चला गया और वहां से मैंने चाची को उनके घर में जाते हुए देखा और में कुछ देर के बाद जब अपनी चाची के कमरे में गया तो चाची ने मुझे बताया कि उन्होंने उससे पैसे के लिए बात कर ली है और चाची ने उसकी बहुत जमकर तारीफ भी मेरे सामने करना शुरू किया और तब मुझे बताया कि उसने मुझसे बोला है कि अगर में उसको अगले महीने में भी उसके पैसा नहीं दूँगी तो भी कोई बात नहीं, लेकिन मैंने तो कुछ देर पहले अपनी आखों से वो सारी बातें वो रासलीला देखी थी और इसलिए में सब कुछ जानता था इसलिए में एकदम चुप होकर चाची की उन सभी बातों को सुनता रहा।                               “Chudai Ke Mast Maje”

फिर उस दिन के कुछ दिन के बाद दोपहर के समय चाची ने मुझसे कहा कि मेरी एक दोस्त के घर पर एक छोटी सी पार्टी है इसलिए में वहां जा रही हूँ तुम खाना खाकर सो जाना, क्योंकि में रात को थोड़ा देरी से आऊँगी और हो सकता है कि अगर में वहां पर ज्यादा लेट हो गई तो में रात को भी ना आऊँ और मुझे आने में दूसरा दिन भी लग सकता है। फिर मैंने कहा कि हाँ ठीक है, में सब काम ठीक तरह से कर लूँगा और चाची मुझसे यह बात कहकर वहां से चली गयी। थोड़ी देर के बाद में भी अपनी कार को लेकर चाची के पीछे पीछे चल दिया और में एक शॉर्टकट की वजह से चाची से पहले ही वहां पर पहुंच गया और उस मकान के पीछे एक छोटा सा पार्क है मैंने अपनी गाड़ी को वहीं पर खड़ा कर दिया और उसके बाद में पार्क से बाहर निकल गया उसके बाद में उस घर के पीछे पहुंच गया।

 

अन्तर्वासना हिंदी सेक्स स्टोरीज : Bhabhi Ki Garam Bhatthi Se Thandi Dur Hui

मैंने हल्की से उस खिड़की को खोल लिया, क्योंकि उसी खिड़की से उस घर के अंदर का पूरा नज़ारा बड़े आराम से देखा जा सकता था। अब मैंने देखा कि वो आदमी अंदर बैठा हुआ था इतने में मेरी चाची भी वहां पर पहुंच गई वो चाची को देखकर खुश होने लगा और उठकर उसने सबसे पहले घर का दरवाज़ा बंद कर लिया। उस समय मेरी चाची थोड़ी सी घबराई हुई थी, इसलिए वो चाची को अपनी बाहों का सहारा देकर अंदर ले गया जहाँ पर बेड लगे हुए थे। फिर वो चाची को एक अजीब नजर से देखने लगा और उसके बाद वो चाची की साड़ी को उतारने लगा। चाची उसको चुपचाप देखने लगी थी और उसने मेरी चाची की पूरी साड़ी को बस एक मिनट में ही उतार दिया और उसके बाद चाची के दोनों कंधो को पकड़कर पीछे वाली दीवार की तरफ एकदम सटा दिया।                    “Chudai Ke Mast Maje”

अब चाची अपने आप को धीरे धीरे छुड़वाने का प्रयास करने लगी, लेकिन वो नामुमकिन था वो बहुत ही दमदार अच्छे शरीर वाला था। वो चाची की गर्दन पर चूमते हुए उनको प्यार करने लगा था और उसके बाद उसने सही मौका देखकर चाची का ब्लाउज खोलकर दूर फेंक दिया। फिर मैंने अपनी चकित नजरों से देखा कि चाची के वो बड़े आकार के लटकते हुए बूब्स उनकी ब्रा से बाहर निकलने के लिए पूरी तरह से तैयार थे। अब उसने चाची के पेटीकोट का नाड़ा भी खोल दिया जिसकी वजह से वो पेटीकोट उतरकर नीचे आ गया और चाची की गांड दिखने लगी उस समय चाची बस अपनी ब्रा, पेंटी में खड़ी हुई किसी सेक्सी मॉल की तरह बड़ी ही कामुक आकर्षक लग रही थी और उनका वो रूप देखकर अब मेरे लंड ने भी अपना आकार बदलकर उनकी चूत को सलामी देना शुरू कर दिया था, क्योंकि वो काले रंग की ब्रा, पेंटी अपने गोरे बदन पर चिपकाए हुए काम देवी नजर आ रही थी।                          “Chudai Ke Mast Maje”

फिर चाची ने उससे कहा कि आज आप मेरे साथ ऐसा मत कीजिए, मुझे उस दिन भी बहुत तेज दर्द हुआ था और मेरी कई दिनों तक चलने की चाल ही एकदम बदल गई थी। तो उसने कहा कि आज तुम इतने दिनों के बाद तो आज मेरी पकड़ में आई हो, आज में आपको बिना चुदाई किए कैसे छोड़ दूँ? इतना कहकर उसने तुरंत ही चाची की पेंटी में अपना एक हाथ डाल दिया और वो उनकी गांड को दबाने लगा। कुछ देर बाद चाची को भी थोड़ी थोड़ी मस्ती छाने लगी। फिर उसने चाची को अपनी गोद में उठाकर बेड पर लेटा दिया और चाची की ब्रा को खोल दिया, वो चाची के बड़े आकार के गोलमटोल बूब्स को देखकर एकदम हैरान हो गया और वो उन दोनों बूब्स को ज़ोर ज़ोर से चूसने दबाने लगा, जिसकी वजह से चाची करहाने लगी।

फिर वो कुछ देर बूब्स का मज़ा लेने के बाद अब चाची की पेंटी को उतारने लगा और चाची अपनी दबी हुई आवाज़ में उसका विरोध करने लगी थी, लेकिन फिर भी उसने चाची की पेंटी को उतार दिया उसके बाद चाची मोन करने लगी आह्ह्ह्ह ओह्ह्ह्ह। फिर उसने बिना देर किए अपने भी कपड़े उतारने शुरू किए और जैसे ही उसने अपना अंडरवियर उतारा तो चाची के मुहं से उसके मोटे लंबे लंड को देखकर ओह्ह्ह हाए राम इतना लंबा, यह तो मेरी चूत को उस दिन की तरह आज भी चोदकर चुदाई का पूरा बुखार उतार देगा, यह ऐसा बलशाली है और तभी तो मेरी चूत पूरे तीन दिनों तक दर्द से बहुत तड़पी, मुझे आज भी हल्का सा दर्द है निकल पड़ा। दोस्तों वैसे तो मैंने भी ऐसा मोटा लंबा लंड पहले कभी नहीं देखा था, क्योंकि उसका लंड करीब सात इंच लंबा और तीन इंच मोटा भी था। अब चाची ने उससे कहा कि तुम अब इसको मेरे अंदर मत डालना, मैंने पिछली बार इसको अपनी आखों से देखा होता तो में पहले भी दर्द से बच जाती, इससे मुझे बहुत दर्द होगा, प्लीज मुझे तुम अब घर जाने दो, लेकिन दोस्तों वो अब कहाँ मेरी चाची की कोई भी बात को सुनने वाला था? उसको तो अब चाची की चुदाई को कैसे भी खत्म करके अपने लंड को शांत करना था। तभी एक दूसरा आदमी टॉयलेट के अंदर से बाहर निकला। उसके हाथ में एक कैमरा था उसने उस कैमरे से उन दोनों के बहुत सारे फोटो निकाले।                      “Chudai Ke Mast Maje”

 

लौड़ा खड़ा कर देने वाली कहानी : भाई जरा मेरी चूत की मालिश कर दे

चाची डर की वजह से उठने लगी तभी, उसने चाची को ज़ोर से धक्का देकर एक बार फिर से लेटा दिया और कहा कि तुझे ज्यादा उछलकूद करने की इतनी ज़रूरत नहीं है, यह मेरा एक बहुत अच्छा दोस्त है और यह भी तुम्हे देखकर तुम्हारे बारे में सोचकर मुठ मारता है, लेकिन आज यह भी अपनी प्यास बुझाएगा। अब वो दूसरा आदमी कहने लगा कि आज इस मैना को हम दोनों मिलकर पूरी रात जमकर इसकी चुदाई के पूरे मस्त मज़े लेंगे और इसकी मस्त चुदाई करेंगे। अब चाची उनको मना करने लगी और तभी उसने कहा कि आज की रात आप हमारी है और आपके ऊपर सिर्फ़ हम दोनों का पूरा पूरा हक है, इतना कहकर दूसरे आदमी ने भी अपने पूरे कपड़े तुरंत ही उतार दिए और अब वो भी बेड के पास आ गया और उसने चाची के होंठो पर अपने होंठ रखकर वो उन्हे चूसने लगा तो चाची छटपटाने लगी। उधर पहला आदमी अपना लंड लेकर एकदम तैयार खड़ा था और उसने चाची की गांड पर अपना लंड सटा दिया और फिर एक हल्का सा झटका मार दिया जिसकी वजह से मेरी चाची दर्द से चिल्ला उठी वो आईईईईई माँ में मर गई ऊफफ्फ्फ्फ़ मुझे बहुत तेज दर्द हो रहा है तुम मुझे अब छोड़ दो कहने लगी। तो दूसरे आदमी ने चाची के दोनों हाथ पकड़ लिए और उसी समय चाची के मुहं में अपना मोटा लंबा लंड डाल दिया, जिसकी वजह से वो ज़्यादा ज़ोर से आवाज निकालकर चिल्ला नहीं सके। अब पहले आदमी ने एक जोरदार झटका और मार दिया जिसकी वजह से उसका आधा लंड मेरी चाची की गांड को चीरता फैलाता हुआ अंदर चला गया।              “Chudai Ke Mast Maje”

दोस्तों उस दर्द की वजह से चाची अब पहले से ज्यादा तड़पने लगी थी, क्योंकि उनको वो दर्द अब सहना बड़ा मुश्किल होता जा रहा था और इतने में उसने एक दो झटके और मारे तो उसका पूरा का पूरा लंड अब चाची की गांड के अंदर चला गया, लेकिन चाची दर्द की वजह से छटपटाते हुए अपनी गर्दन को इधर उधर करने लगी। अब दूसरे आदमी ने अपना लंड चाची के मुहं के अंदर धीरे धीरे धक्के देते हुए उनके मुहं की चुदाई करना शुरू किया, मैंने देखा कि चाची को एक साथ दोनों तरफ से उन मोटे लंड के धक्के पड़ रहे थे और ऐसा करते हुए उसको अभी कुछ देर ही हुई थी। फिर उसने अपने लंड को बाहर निकाल लिया, लेकिन उसने अपने लंड से निकले पूरे वीर्य को चाची के मुहं में पहले ही निकाल दिया था।                                          “Chudai Ke Mast Maje”

अब चाची ज़ोर से चिल्ला उठी उफ्फ्फ्फ़ आईईई प्लीज अब तुम इसको बाहर निकाल लो वरना में आज मर ही जाउंगी, देखो मेरी चूत का तुमने कैसे बेंड बजाया है मुझसे अब ज्यादा देर इसको सहा नहीं जाता, प्लीज अब बस भी करो, लेकिन उनके ऊपर चाची की किसी भी बात का कोई भी असर नहीं हो रहा था, इसलिए वो उनको वैसे ही तेज ज़ोरदार झटके मारने लगा था और करीब पांच मिनट के बाद वो भी अब धीरे धीरे शांत हो गया। तो में झट से समझ गया कि उसका वीर्य अब चाची की गांड में निकल चुका है और अब दूसरे की बारी थी। उसने भी चाची की गांड में जबरदस्ती अपने लंड को डालकर तेज तेज दमदार धक्के देकर उसकी वही हालत की जिसकी वजह से अब चाची बहुत थक चुकी थी और उसकी हालत बहुत खराब हो चुकी थी।

फिर वो धीरे चलकर टॉयलेट तक चली गई और उसके बाद बाहर आकर चाची ने अपने कपड़े पहन लिए, लेकिन उसी समय दूसरे वाले ने चाची को दोबारा से पकड़कर अपनी तरफ खींच लिया और उसने कहा कि कहाँ जाती है, मेरी जान असली मज़ा तो अभी भी बाकी है, अब तक हम दोनों ने आपकी मोटी गांड मारी है, अभी तो हमें आपकी चूत में अपने लंड को डालकर चुदाई करके अपने इस अमृत को आपकी इस चूत में भी डालना है और उन्होंने चाची को पकड़कर जबरदस्ती बेड पर लेटा दिया। दोस्तों मैंने देखा कि अब चाची की चूत भी गीली होकर चुदाई के लिए तैयार हो चुकी थी। वो मोटा और लंबा लंड और गोरी चूत का बिल्कुल सही मिलन था। अब पहले वाले आदमी ने अपना लंड चाची के मुहं में दे दिया उससे लंड को चूसने के लिए कहा और चाची भी अब उनका साथ देकर उसका लंड चूसने लगी और फिर दूसरे ने चाची की चूत पर अपने लंड को सटाकर एक ज़ोर का झटका मारकर अपने लंड को चाची की चूत में डाल दिया और हिलाने लगा।      “Chudai Ke Mast Maje”

 

मस्तराम की गन्दी चुदाई की कहानी : देसी माल पटा मैंने मार ली उसकी गांड

चाची उस दर्द की वजह से कांप उठी और दर्द की वजह से चाची की आखों में से आँसू निकल पड़े और थोड़ी देर के बाद वो शांत हो गया और फिर उसने चाची की गांड मारी और वो भी शांत हो गया। अब मैंने देखा कि चाची की गांड से सफेद सफेद क्रीम बाहर निकल रही थी। चाची की चूत भी तेज धक्को की वजह से सूज चुकी थी, वो एकदम लाल पड़ गई थी और क्रीम से पूरी भरी हुई थी। दोस्तों उन दोनों ने मेरी चाची को उस पूरी रात अपनी रंडी बनाकर कई बार हर तरह से चोदा। उन्होंने चाची की गांड चूत और उनके मुहं को भी चोदकर पूरी तरह से फैला दिया था और फिर वो दोनों चाची के साथ ही थककर सो गए और उन्होंने जो फोटो निकाले थे, उससे उन्होंने चाची को ब्लेकमेल करके उसको कई बार चोदा और अब तो मेरी चाची को भी उनका लंड लेने की आदत हो गई थी, इसलिए वो अब उनका बिल्कुल भी विरोध नहीं करती थी उनके साथ चुदाई के मस्त मज़े लेती ।                                                        “Chudai Ke Mast Maje”

ये कहानी Chudai Ke Mast Maje Leti Meri Randi Aunty आपको कैसी लगी कमेंट करे…………………..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *