Dost Ki Chudasi Behan Ko Roj Chodta Hun Main – दोस्त की चुदासी बहन

Dost Ki Chudasi Behan Ko Roj Chodta Hun Main

मेरा नाम कमलेश है, में चंडीगढ़ का रहने वाला हूँ, मेरी यह पहली स्टोरी है। मेरी यह स्टोरी बिल्कुल रियल है, में आशा करता हूँ कि आपको मेरी यह स्टोरी बहुत पसंद आएगी। अब में आपको मेरे बारे में बता दूँ, मैंने अपनी ग्रेजुयेशन बीएससी हॉस्पिटलिटी में कंप्लीट की है, में सामान्य दिखता हूँ, मेरा रंग गोरा है और मैंने अपने लंड का साईज़ कभी नापा नहीं है, बस इतना है कि मेरा लंड किसी को भी संतुष्ट कर दे। Dost Ki Chudasi Behan Ko Roj Chodta Hun Main.

तो अब में सीधा मेरी स्टोरी पर आता हूँ, ये स्टोरी एक महीने पहले की है मैंने अपनी ग्रेजुयशन कंप्लीट की और अब जॉब की तलाश में हूँ। उसी बीच मेरे पड़ोस में मेरा दोस्त रहता है, वो उम्र में मुझसे बड़ा है और जॉब करता है। उसकी फेमिली में उसकी माँ और एक बहन है, उसकी बहन का नाम रिंकी है, उम्र 28 साल, फिगर साईज़ 34-30-34 है, रंग गोरा, जब वो चलती है तो सब उसकी गांड को देखते है, उसकी गांड को एक बार कोई भी देख ले तो उसका दिल उस पर आ जाए। मेरा उनके घर बहुत आना जाना था, मेरी रिंकी से अच्छी बनती थी तो एक दिन हम फ़ेसबुक पर बात कर रहे थे। तो उसने मुझसे पूछा कि तेरी गर्लफ्रेंड का क्या हाल है? तो मैंने मना कर दिया कि मेरे कोई गर्लफ्रेंड नहीं है, तो उसने कहा कि।

मस्त हिंदी सेक्स स्टोरी : बुआ के साथ चुदाई का खेल

रिंकी : इतना सुंदर है कोई तो होगी, मुझसे क्यों छुपा रहा है?

में : अगर कोई होगी तो बता दूँगा, मुझे मेरे पसंद की अभी तक कोई नहीं मिली।

रिंकी : तुझे कैसी लड़की चाहिए? में तेरे लिए ढूंढ दूँगी।

में : मुझको तो आप जैसी लड़की चाहिए केरिंग हो, ब्यूटिफुल हो, ड्रेसिंग सेन्स अच्छा हो।      “Dost Ki Chudasi Behan”

रिंकी : अच्छा, में तुझे अच्छी लगती हूँ।

में : हाँ तुम मुझे बहुत अच्छी लगती हो।

रिंकी : तो वो बोली कि ये ग़लत है में तेरे दोस्त की बहन हूँ।

में : मैंने कौन सा ग़लत कहा है, में कौन सा कुछ कर रहा हूँ जो दिल में था, बस वो बोल दिया।

रिंकी : आज तो तूने ये कह दिया, लेकिन आज के बाद मत कहना।

फिर मैंने उससे कुछ दिन बात नहीं की। फिर एक दिन में पार्क में बैठा हुआ था, तो वो मेरे पास आई  और यू ही बातें करने लगी।

रिंकी : तुम मुझसे नाराज़ हो क्या?

में : नहीं। (अपनी शक्ल दूसरी साईड करके)

रिंकी : तो इतने दिन से बात क्यों नहीं की?

में : मुझे लगा तुम गुस्सा होगी।

रिंकी : नहीं में गुस्सा नहीं हूँ में भी तुम्हें पसंद करती हूँ, लेकिन घरवालों की वजह से तुम्हें नहीं बताती हूँ, तो मैंने मौका ना गवाते हुए कहा।

में : आई लव यू रिंकी।

तो वो अपना सिर नीचे करके स्माइल पास करने लगी और जाने लगी, तो मैंने उसे रोक लिया और बोला कि जवाब तो दो।

रिंकी : मेरा जवाब भी यही है।

चुदाई की गरम देसी कहानी : घर में रंडी बहनों को चोदा

अब में तो सातवें आसमान पर पहुँच गया था। फिर वो जाने लगी और बोली कि में रात को तुम्हें फोन करूँगी। फिर रात को 12 बजे उसका फोन आया और मैंने उसे आई लव यू बोला, तो वो बोली कि आई लव यू टू।             “Dost Ki Chudasi Behan”

में : मुआआह।

रिंकी : मुआआह।

में : यार मिल लो कही बाहर चलते है।

रिंकी : ठीक है, कल 11 बजे मार्केट से मुझको पिक कर लेना।

में : ओके लव यू।

फिर अगले दिन में उसे अपनी बाइक पर पिक करने गया, वो सूट में बहुत सेक्सी लग रही थी। फिर हम  थिएटर में चले गए, वहाँ पर हमने वेलकम बैक मूवी देखी। फिर वहाँ मैंने उसे किस की और उसे बहुत गर्म कर दिया, तो वो बोली कि चलो कहीं और चलते है यहाँ कोई देख लेगा। तो फिर हम वहाँ से निकले, फिर में उसे 51 सेक्टर में अपने फ्रेंड के फ्लेट पर ले आया। मेरा फ्रेंड अब दिल्ली चला गया था और वो फ्लेट पूरा खाली था और मेरे पास उसकी चाबी भी थी। फिर हम अंदर गए और मैंने डोर लॉक किया और फिर मैंने उसे हग करके किस करना शुरू कर दिया। तो अब वो भी मेरा पूरा साथ दे रही थी, फिर में उसे बेडरूम में ले गया, फिर मैंने वहाँ उसका सूट उतारा, तो उसने नीचे रेड ब्रा और पेंटी पहनी थी। फिर वो मेरे कपड़े उतारने लगी, अब में पूरा नंगा हो गया था, अब में उसके बूब्स को दबा रहा था और वो मेरे लंड पर अपना हाथ फैर रही थी।                                    “Dost Ki Chudasi Behan”

अन्तर्वासना हिंदी सेक्स स्टोरीज : Sexy Cousin Ki Panty Sarka Kar Lund Dala

फिर मैंने उसकी ब्रा खोल दी और उसके बूब्स को सक करने लगा। फिर 10 मिनट के बाद वो भूखी शेरनी की तरह मेरा लंड चूसने लगी। फिर मैंने उसकी पेंटी उतारी और हम 69 पोज़िशन में आ गए और फिर मैंने उसकी चूत को चूसा, तो वो बिल्कुल पागल हो गई थी। अब हम 15 मिनट तक ऐसे ही रहे थे। फिर वो बोलने लगी कि अब ज्यादा देर ना करो मुझे चोदो। फिर मैंने उसकी चूत पर अपना लंड रखा और अपने लंड को उसकी चूत के ऊपर रगड़ने लगा, तो वो पागल हो गई और बोलने लगी कि डाल दो अंदर अब मत तड़पाओ। तो फिर मैंने एक धक्का दिया और मेरा लंड आधा उसकी चूत के अंदर चला गया, वो पहले भी चुदी हुई थी और उसकी चूत खुली हुई थी। तो मैंने एक और धक्का मारा तो मेरा पूरा लंड उसकी चूत के अंदर चला गया और वो मौन करने लगी। फिर में जोर-जोर से धक्के देने लगा, फिर थोड़ी देर के बाद मैंने अपनी पोज़िशन चेंज की और उसे अपने ऊपर लेकर आया। तो अब वो मेरे ऊपर उछल रही थी और में उसके बूब्स चूसे जा रहा था।

अब जब वो उछलती तो उसके बूब्स ऊपर नीचे होते हुए बड़े मस्त लग रहे थे। फिर मैंने उसे डॉगी स्टाइल में चोदा, तब तक वो एक बार झड़ चुकी थी। फिर मैंने अपनी स्पीड तेज़ की और ज़ोर-ज़ोर धक्के लगाने लगा और साथ में उसकी गांड पर जोर-जोर से थप्पड़ लगाने लगा, जिससे उसकी गांड लाल हो गई थी। फिर मैंने अपना लंड बाहर निकाला और उसके बूब्स पर अपना वीर्य छोड़ दिया, फिर में उसके साथ लेट गया। फिर हम बाथरूम में जा कर फ्रेश हुए, अब हम फिर से गर्म हो गए थे, तो अब मुझे उसकी गांड दिख रही थी। तो मैंने उससे कहा कि में तेरी गांड मारना चाहता हूँ, तो वो बोली कि मार लो अब से में तुम्हारी हूँ जो करना है कर लो। फिर हम बेडरूम में आए और फिर मैंने उसकी गांड में मेरा लंड डाला, तो मेरा लंड पूरा उसकी गांड के अंदर चला गया। तो मैंने उससे बोला कि साली तू पहले भी अपनी गांड मरवा चुकी है, आज में इसे फाड़ दूँगा।                       “Dost Ki Chudasi Behan”

मस्तराम की गन्दी चुदाई की कहानी :  मम्मी की गांड चोद कर फाड़ दी

फिर मैंने उसकी गांड मारी और उसकी गांड में अपना माल छोड़ दिया। फिर हमने सब साफ करके अपने-अपने कपड़े पहने और फिर मैंने उसे उसके घर ड्रॉप किया। फिर रात को उसका मैसेज आया कि आज की चुदाई मेरी सबसे बेस्ट चुदाई थी, उसके बाद भी जब हमें मौका मिलता है तो में उसे चोदता रहता हूँ ।               “Dost Ki Chudasi Behan”

ये कहानी Dost Ki Chudasi Behan Ko Roj Chodta Hun Main आपको कैसी लगी कमेंट करे…………………

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *