Kajal Ki Salwar Khol Kar Bur Chata Maine – काजल की सलवार खोल कर

Kajal Ki Salwar Khol Kar Bur Chata Maine

मैं कोलेज में आज काफी दिन के बाद आया था, ऐसे भी मुझे लेक्चर बोरिंग लगते और में कोलेज को दूर से ही नमस्कार कर देता था | आज में नितेश से मिलने आया था, उस चूतिये से मुझे 1000 रूपये वापस लेने थे जो उसने मुझ से कर्ज लिए हुए थे | Kajal Ki Salwar Khol Kar Bur Chata Maine.

कोलेज के गेट के पास ही मुझे एक नीली आँखों वाली हॉट लड़की दिखी…क्या मस्त बदन और चहेरा था…करीब 22 की उम्र, मस्त उभरे हुए चुंचे और गोल मटोल गांड…! में एक दो मिनट वही खड़ा उसके शरीर को देखता रहा…मुझे नितेश, कोलेज, पैसे कुछ नहीं सूझ रहा था…बस इस लड़की के शरीर के तरफ ही पूरा ध्यान था | तभी इस लड़की के साथ खड़ी लड़की पहेली बार मेरी तरफ पलटी और मैं उसे देख बहुत खुश हो गया, वोह मेरी खास दोस्त नम्रता थी…! मैं तुरंत इन दोनों लडकियों के पास चला गया | नम्रता मुझे देख उछल पड़ी, हे सोनू तू और कोलेज…? मैं उसके पास गया और उसे गले लगाया…वैसे नम्रता भी भरी माल था, पर वह थोड़ी मोटी थी, उसके 38 साइज़ के चुंचे मेरी छाती से टकरा रहे थे और मेरे कड़े लंड को शायद नम्रता ने भी महेसुस किया था…! उसने इस हॉट लड़की की तरफ इशारा करते हुए कहा, इस से मिलो यह मेरी फ्रेंड है, काजल…! मैंने उस से हेंडशेक किये, मेरा मन तभी उसे गले लगाने का हुआ, पर में रुक गया…!
हॉट लड़की मेरे लपेटे मैं आ गई…!

चुदाई की गरम देसी कहानी : अम्मी के साथ सेक्स किया सोते हुए

मैंने उसी शाम को नम्रता को फोन किया, और उस से काजल के बारे में बात की…मेरे साथ फ्रेंक बात करने वाली नम्रता बोली, मुझे तभी पता था की तू उसकी तरफ कुत्ते वाली नजर से देख रहा था…और तेरा तोता भी टाईट हुआ पड़ा था…मैं हंस पड़ा और मैंने नम्रता से कहा, तू कुछ ना मेरा उसके साथ | नम्रता बोली, ठीक है तू भी क्या याद रखेगा…कल कोलेज आना और थोड़े दिन आते रहना | नम्रता सच में मेरी अच्छी दोस्त थी क्यूंकि उसने मेरा जुगाड़ इस हॉट इंडियन लड़की के साथ करा दिया और हम दोनों एक महीने के बाद कोलेज के बगीचे में बैठ कर ही अपनी वासनाए कपड़ो के साथ तृप्त करते रहे, मैंने कई तिकडम भिड़े पर यह लड़की गेस्ट हाउस में आकर चुदवाने में डरती थी और हम दोनों के घर यह मुमकिन नहीं था | मैंने इस बारे में सोचना शरु कर दिया की कहाँ ले जा के इस हॉट लड़की की चूत मारूं…..?
नम्रता सच में मेरी अच्छी दोस्त निकली.                        “Kajal Ki Salwar Khol”

मेरी हॉट लड़की की उलझन तब जा के खत्म हुई जब मैंने नम्रता को बताया की मैं काजल से मिल नहीं पा रहा हूँ, मोटी नम्रता शरीर से ही मोटी थी, दिमाग से नहीं…वोह तुरंत भांप गई की मेरा मतलब क्या था, उसने आँख मारी और बोली की एक काम कर तू…हमारे रोनकपुर वाले मकान पे जाएगा उसके साथ…वहा केवल माली काका रहेते है मैं उनको बोल दूंगी…! मैंने नम्रता के बड़े चुंचे एक बार और सिने से लगा लिए…अब मुझे इस हॉट लड़की की चूत में लंड देने के सपने और करीब दिख रहे थे..! दुसरे ही दिन मैंने नम्रता से मकान का अड्रेस लिया और मैंने अपनी बाइक पर शाम को काजल को लेकर मकान की तरफ चलती पकड़ी | गर्मी के दिन होने की वजह से अँधेरा हुआ नहीं था…मकान पर पहुँचते ही हमें माली काका मिला और उसने हमें बहार का रूम खोल दिया | नम्रता ने इस बूढ़े को बताया थी की हम हसबंड-वाईफ है और उसके महेमान है | हॉट लड़की लंड देख पागल सी हो गई.                   “Kajal Ki Salwar Khol”

अन्तर्वासना हिंदी सेक्स स्टोरीज :  दिल्ली की सेक्सी मॉडल की चूत फाड़ दी

नम्रता का मकान काफी बड़ा था और हम दोनों गार्डन के सामने वाले सिंगल कमरे में ही बैठे थे, बूढा अंकल पानी लेकर आया और बोला, नम्रता बीबी हमको फोन किये थी, आप लोग खाना खाएंगे | मैंने कहा, नहीं अंकल हम किसी के फोन का इन्तेजार कर रहे है, उसको मिलकर हम निकल जाएंगे | माली अंकल बोला, आप लोग बैठो में बाजार से सब्जी लेकर आता हूँ ! वाह सही वक्त पर बूढा भी खिसक गया, मैं बहुत खुश हो गया | बूढ़े के जाते ही मैंने कमाड बंध की और काजल को गले से लगा लिया | उसके चुंचे भी अकड़े हुए थे और साँसे फूली हुई थी | मैंने उसके होठो को एक हलका चुम्मा दिया और मैं उसके कपडे उतारने लगा, काजल ने मेरे लंड को पकड लिया और मैं उछल पड़ा, हॉट लड़की के हाथ में लंड आते ही उसकी आँखों में एक अजब सी चमक आ गई और उसने मेरे पेंट का बकल खोल दिया ! पेंट मैंने निचे सरका दी और अंदर पहनी हुई अंडरवेयर खिंच ली, काजल की आँखे मेरे 8 इंच लंबे लंड को देख कर खुली ही रह गई…!
लंड हॉट लड़की की चूत में डाल कर मेने उसे सही तरह पेल दिया…..!

मैंने काजल के सलवार और कमीज़ दोनों उतार फेंके और साथ ही उसकी ब्रा-पेंटी को भी उतार डाली, इस हॉट लड़की के चुंचे काले निपलो से ढंके थे और उसकी निपले काफी बड़ी थी, मैंने तुरंत उसके निपल अपने उंगलियों के बिच ले लिए और उन्हें हल्के हल्के दबाने लगा, काजल सिस्कारिया लगाने लगी और उसने मेरे कंधे पर अपने दोनों हाथ रख दिए…मुझे अलग ही नशा चढ़ गया और मैंने उसे उठाके वहा पलंग के गद्दे पर फेंका…! काजल की टाँगे फेलाके में अपनी दुसरे नंबर की ऊँगली उसकी चूत के ऊपर फेरने लगा…इस हॉट लड़की की चूत गीली हो गई थी और वह अपने दोनों हाथो से चद्दर को मरोड़ रही थी….मैंने अब हल्के से ऊँगली चूत के अंदर सरका दी और उसके चूत की कलाईटोरिस को सहलाने लगा…काजल अब बर्दास्त के बहार होने लगी और उसने मेरे हाथ को पकड़ के चूत के अन्दर मेरी ऊँगली जोर से दबा दी | मुझे लगा की अब सही वक्त हो चला है इस हॉट लड़की की चूत में लकड़ी जैसा कड़ा लंड देने के लिए |     “Kajal Ki Salwar Khol”

मस्तराम की गन्दी चुदाई की कहानी :  मेरे कॉलेज के सेक्सी सफ़र

मैंने काजल को टांगे फेलाने को कहा और लंड को अपने हाथ से पकड उसके चूत के अन्दर आहिस्ता आहिस्ता रख दिया | उसकी गर्म चूत के अंदर लंड अपना रास्ता बनाते हुए घुस गया और काजल जैसे की मोटे लंड को चूत में डाल देने की वजह से तड़पने लगी | मैंने जरा भी जल्दी नहीं की, लेकिन जब मुझे लगा की काजल मेरे नाग जैसे लंड से सेट हो गई है तो मैंने धीमे धीमे अपनी रफ़्तार बढ़ा दी और दोनों हाथ उसके चुन्चो पर रख के उसकी सख्ती से चुदाई करनी शरु कर दी, काजल के मस्तक से और मेरे सीने पे पसीना छूटने लगा था, मेरी रफ़्तार बढ़ती ही गई और में तब रुका जब मेरे लंड ने काजल की चूत को वीर्यरस से भर दिया, हॉट लड़की काजल मुझे बड़े प्यार से देख रही थी…हम दोनों ने माली अंकल के आने से पहेले कपडे पहन लिए और बहार खड़े उसके आने की राह देखने लगे, उसके आते ही हम दोनों अपने घरो की तरफ चल दिए…..!                     “Kajal Ki Salwar Khol”

कामुकता हिंदी सेक्स स्टोरी : कामना की कामवासना ससुर ने शांत

ये कहानी Kajal Ki Salwar Khol Kar Bur Chata Maine आपको कैसी लगी कमेंट करे………………….

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *