Kunwari Dulhan Ki Sexy Bra Kholi – कुंवारी दुल्हन की सेक्सी ब्रा खोली

Kunwari Dulhan Ki Sexy Bra Kholi

हाय दोस्तों, मेरा नाम है कमल मैं 24 साल का हूँ और भरतपुर का रहने वाला हूँ, मैं दिखने में तो साधारण हूँ लेकिन मेरे अंदर सेक्स करने की इच्छा बहुत है इसका एक कारण यह भी है कि मैं बहुत समय से HamariVasana कि कहानियां पढ़ रहा हूँ और मैं पिछले 5 सालों से पॉर्न फ़िल्में भी देख रहा हूँ जो कि मैं रोज़ाना करता हूँ और रोज ही 2-3 बार मूठ भी मारता हूँ बिना लंड को हिलाए मुझे नींद भी नहीं आती हमेशा किसी खूबसूरत लड़की को सोचकर या पॉर्न फ़िल्म देख कर अपना लंड हिला लेता हूँ. Kunwari Dulhan Ki Sexy Bra Kholi.

दोस्तों मैं एक ऑफिस में काम करता हूँ और एक बिल्डिंग के एक फ्लेट में किराये से रहता हूँ.

ये बात करीब 6 महीने पहले की है मैं ऑफीस से एक दिन वापस घर पर थोड़ा जल्दी आ गया था क्योंकि मेरी तबियत कुछ ठीक नहीं थी मैं जैसे ही अपने फ्लेट के पास गया तो मैनें देखा कि मेरे फ्लेट के पास वाले फ्लेट में बहुत भीड़ जमा थी बहुत सारी लड़कियां और बच्चे वहाँ खड़े हुए थे उस फ्लेट के सामने मैं समझ नहीं पाया कि यह सब क्या हो रहा है मैं अंदर अपने फ्लेट में चला गया थोड़ी देर बाद मुझे बाहर से कुछ आवाजें आई कुछ लोग आपस में बातें करते हुए कह रहे थे कि यह दुल्हन कितनी खूबसूरत है ना. फिर मैं समझ गया कि मेरे पास वाले फ्लेट में कोई नया शादीशुदा जोड़ा यहाँ रहने के लिये आया है                       Kunwari Dulhan

 

मस्त हिंदी सेक्स स्टोरी : टेलर ने मम्मी के बूब्स नापे

फिर शाम को मेरा भी मन किया कि उस दुल्हन को एक बार मैं भी तो देखूँ लेकिन मुझे मौका ही नहीं मिल पाया था करीब 2-3 दिन के बाद जाकर मुझे वह मौका मिला मैं सुबह जब उठकर फ्रेश होकर ऑफिस जाने को जैसे ही अपने फ्लेट के बाहर निकला तो मेरी नज़र उस फ्लेट की तरफ गई और मैनें देखा कि एक 21-22 साल की एक बहुत ही खूबसूरत लड़की सूट पहने हुए खड़ी थी

उसका फिगर ना तो ज़्यादा बड़ा था और ना ही ज्यादा छोटा था लेकिन वह दिखने में एकदम मस्त थी मैनें उसका चेहरा देखने की कोशिश की लेकिन उसके चेहरे पर उसके दुपट्टे का घूंघट था फिर जैसे ही उसकी नज़र मेरी तरफ पड़ी तो वह जल्दी से अंदर की तरफ भाग कर चली गई लेकिन मेरा लंड तो उसे एक झलक देखकर ही खड़ा हो गया और दिमाग़ में उसके लिये बहुत गंदे-गंदे विचार चलने लग गये थे, और फिर मैं ऑफीस के लिये निकल गया और दिनभर ऑफिस में भी उसके ही बारे में ही सोचने लगा                 Kunwari Dulhan

फिर पता नहीं कब शाम हो गई और मैं वापस ऑफिस से छूटकर घर पर आ गया  मैं जब घर पर पहुँचा तो मैनें उनके फ्लेट की तरफ नज़र डाली लेकिन इस बार वह नहीं दिखी तो फिर मैं अपने फ्लेट के अंदर चला गया और उसी के बारे में सोचने लगा तभी मेरे फ्लेट के दरवाजे की घन्टी बजी तो मैनें दरवाज़ा खोला तो देखा कि बाहर एक आदमी अपने हाथ में बर्तन लेकर खड़ा हुआ था मैनें उससे पूछा कि आप कौन हो और क्या काम है तो उसने बताया कि मैं यहाँ नया-नया आया हूँ और हमारी अभी नई-नई शादी हुई है तो आज थोड़े दूध की ज़रूरत है अगर थोड़ा दूध मिल जाए तो…. फिर मैनें कहा ज़रूर मिलेगा

फिर मैनें उनसे कहा कि आप अंदर आ जाइये बाहर ही क्यों खड़े हो तो फिर वह अंदर आया और हमने बातें करना शुरू कर दिया और वह अपने बारे में बताने लगा कि उसकी नई-नई शादी हुई है और उसका नाम सुनील है और उसकी पत्नी का नाम संध्या है फिर मैनें भी अपने बारे में बताया और हम लोगों में काफ़ी जानपहचान हो गई.                                   Kunwari Dulhan

 

नई देसी सेक्स स्टोरी : सोती हुई दीदी की गांड में लंड डाला=

उसने मुझे अगले दिन रात के खाने पर उनके घर बुलाया और मैनें हाँ कर दी फिर दूसरे दिन मैं सुबह उठा और ऑफीस चला गया और वापस रात को अपने घर आया जैसे ही मैनें अपने फ्लेट का दरवाज़ा खोला वैसे ही सुनील निकल कर बाहर अपने दरवाजे पर आकर कहने लगा आ गए आप आ जाओ अब जल्दी से हमारे घर हम कब से तुम्हारा इंतजार कर रहे हैं खाना खाने के लिये फिर मैनें कहा सॉरी मैं थोड़ा लेट हो गया मैं अभी फ्रेश होकर आता हूँ  फिर मैं अंदर चला गया और फ्रेश होने लगा थोड़ी देर बाद मैं

फिर उसके घर जाने लगा मैनें जैसे ही उसके फ्लेट के अंदर कदम रख तो देखा कि उसकी बीवी यानी संध्या सोफे पर बैठकर टीवी देख रही थी और इस बार मुझे उसका चेहरा भी देखने का मौका मिल गया उफफफफ्फ़ सही में वह बहुत ही खूबसूरत थी और फिर मेरी नज़र उसके बब्स पर पड़ी तो मज़ा ही आ गया उसने उस समय दुपट्टा नहीं डाल रखा था अपने बदन पर जिससे उसकी छाती दिख रही थी मैनें जैसे ही देखा तो मैं वहीं रुक गया और मेरा लंड भी पूरा तन कर खड़ा हो गया थोड़ी देर बाद उसकी नज़र मेरी तरफ पड़ी तो वह झट से उठी और दुपट्टे से अपना मुहँ छुपाते हुए अपने कमरे की तरफ चली गई फिर मैं भी फ्लेट के अंदर चला गया लेकिन मेरे लंड का उभार बिल्कुल दिख रहा था क्योंकि मैनें अंडरवियर उतार रखा था और बस पजामा ही पहन रखा था

फिर मैनें देखा कि सुनील बाहर आया अपने कमरे से और मेरी तरफ देख कर कहा कि आजाओ मेरे कमरे में यहाँ खाना खाते है मैनें बोला ठीक है और अंदर उसके कमरे की तरफ चल दिया सुनील ने उसकी बीवी यानी संध्या को आवाज़ लगा कर कहा कि खाना गरम कर दो मैं थोड़ा बाथरूम से होकर आता हूँ और मुझे भी कहा कि मैं अभी आता हूँ मेरा तो लंड पूरा खड़ा था शांत ही नहीं हो रहा था उसकी बीवी का फिगर देख कर                                                              Kunwari Dulhan

 

लंड खड़ा कर देने वाली कहानी : मौसी के बड़े बड़े बूब्स चुसे

फिर मेरी नज़र संध्या को तलाशने लगी और मेरे पैर अपने आप चलने लगे चलते-चलते उनके किचन के पास पहुँचा तो देखा कि संध्या खड़ी हुई है लेकिन उसका चेहरा दूसरी तरफ है और उसकी पीठ पीछे मतलब मेरी तरफ है मैनें उसकी कमर को देखा फिर उसकी गांड को देखा वह भी मस्त थी ना ज़्यादा बाहर और ना ही ज़्यादा अंदर एकदम मस्त थी और यह सब सोचते-सोचते मैं अपने लंड को मसल रहा था फिर मेरा दिमाग़ पागल सा होने लगा और मैं पूरी तरह जोश में आ गया और मेरे कदम आगे बढ़ने लगे और मैं बिल्कुल उसके पीछे जाकर खड़ा हो गया और अपने लंड को पकड़ कर उसकी गांड में पीछे से कपड़ों के ऊपर से ही घुसाने लगा जैसे ही मैनें अपना लंड घुसाया तो वह एकदम से छटपटा गई और आगे की तरफ सरक गई

फिर उसी समय मेरा नशा टूटा और मुझे अपनी गलती का अहसास होने लगा और वह भी मेरी तरफ देखने लगी फिर मेरे लंड को देखने लगी मैं उससे आँख भी नहीं मिला पा रहा था और मैं जल्दी से वहाँ से निकल कर जहाँ हम लोगों ने खाना खाने का प्लान बनाया था वहाँ चला आया और सोचने लगा कि मैनें यह सब क्या कर दिया लेकिन मज़ा भी बहुत आया था यारों उसकी गांड उफ़फ्फ़ ऐसा लगा जैसे मेरा लंड उसकी गांड को चीरता हुआ उसके कपड़ों को फाड़कर अंदर ही चला जाएगा

फिर थोड़ी देर बाद सुनील आया और उसने आवाज़ लगाई कि संध्या खाना लेकर आओ गरम हो गया क्या ? थोड़ी देर बाद संध्या खाना लेकर आ गई और खाना लगाने लगी लेकिन उसकी नज़रें मेरे लंड की तरफ थी वह बिना पलक झपकाए मेरे लंड को देखे जा रही थी जो इस वक़्त भी बिल्कुल तनकर खड़ा था सोया नहीं  था फिर वह खाना लगा कर चली गई.

मैं भी खाना खाकर उनसे विदा लेकर सोने को चला गया अपने फ्लेट में लेकिन मेरा दिमाग़ तो उस बात को बार-बार याद कर रहा था और उस वजह से मेरा लंड सो ही नहीं रहा था इसी तरह उसकी याद में कई दिन गुजर गये लेकिन मेरे दिमाग़ से वह बात निकल ही नहीं रही थी उल्टा मैं तो अब यह सोचने लगा था कि कैसे मैं अब उसको चोदूँ फिर कुछ दिन बाद एक मौका मेरे हाथ आया उसका पति यानी सुनील काम की तलाश में इधर-उधर भटक रहा था ,                               Kunwari Dulhan

एक दिन वह सुबह-सुबह अचानक मेरे फ्लेट पर आया और कहने लगा कि मुझे आज एक नौकरी मिली है उसी के सिलसिले मैं बाहर जा रहा हूँ तू भी प्लीज मेरे साथ चल तभी मेरा शैतानी दिमाग़ दौड़ा और मेनें कहा कि यार मेरी तबियत ठीक नहीं है तो मैं आज इसी वजह से ऑफीस भी नहीं गया सॉरी भाई तू अकेला ही चला जा तो वह बोला कि ठीक और वह जाने लगा और मुझसे कहने लगा कि मेरा एक काम कर देना मेरी पत्नी संध्या घर में अकेली है तो उसे अगर किसी चीज़ की ज़रूरत हो तो ला देना वह यहाँ कुछ नहीं जानती है तो फिर मैनें कहा ठीक है इतना तो मैं कर ही दूँगा यह बोलकर वह चला गया और तब से मैं बस यह सोचने लगा कि किस बहाने से मैं उसके घर जाऊँ            Kunwari Dulhan

 

चुदाई की प्यासी लड़की की कहानी : भाई जरा मेरी चूत की मालिश कर दे

तभी एक आवाज़ आई कमल जी क्या आप अभी फ़ुर्सत में हो मेरा तो यह सुनकर होश ठिकाने ही नहीं रहा मैं जल्दी से उसके फ्लेट की तरफ चला गया और हाँ कहते हुए जाते ही मैनें देखा के वह गुलाबी साड़ी पहने हुए थी उफफफ्फ़….. क्या कयामत लग रही थी यार एकदम मस्त बस उसको इतना ही देखना था कि मेरा लंड फिरसे खड़ा हो गया उसने मेरी तरफ देखा और बोली कि बाज़ार से कुछ

सब्ज़ी ला दोगे क्या लेकिन तब भी उसकी नज़र मेरी तरफ नहीं थी वह तो सिर्फ मेरे लंड को ही बिना पलक झपकाए देखे जा रही थी

फिर मैं सब्ज़ी लाने के लिये चला गया करीब 30 मिनट बाद लौटा तो देखा कि वह किचन में बिल्कुल वैसे ही खड़ी है जैसे कि उस दिन खड़ी थी उसका मुहँ दूसरी तरफ और पीठ मेरे यानी दरवाजे की तरफ थी मैनें इस बार थोड़ा ज्यादा शरारतीपन दिखाया और हिम्मत करके इस बार मैं उसके पीछे गया और उसकी साडी को हल्के से ऊपर उठाना चाहा लेकिन वह इस बार चौंक गई और मुझसे दूर हटकर खड़ी हो गई लेकिन कुछ नहीं बोली मैनें सब्जी उसको दे दी और वहीं थोड़ी देर खड़े रहने के बाद फिर से उसके पीछे गया और उसकी साडी को फिर से ऊपर उठाया लेकिन इस बार वह कुछ नहीं बोली और चुप रही मैनें उसकी साडी को ऊपर उठाकर उसकी पैन्टी को नीचे सरकाया और उसकी चूत को सहलाने लगा                                                 Kunwari Dulhan

जिससे वह भी एकदम से गरम हो गई फिर मैनें उसकी चूत में अपनी एक ऊँगली को डाल दिया तो मेरी उंगली अंदर जाते ही वह एकदम से उछल पड़ी उसकी चूत इतनी टाइट थी कि मुझे यह नहीं समझ आ रहा था कि उसका पति उसको चोदता भी है या नहीं ऐसा लग रहा था कि उसकी सील अभी तक नहीं टूटी है जब मैं ऊँगली को अंदर-बाहर करने लगा तो वह तड़पकर उहफफफ्फ़…. आहमह…. ज़ोर-ज़ोर से करने लगी थी

फिर 10 मिनट के बाद उसने मेरा हाथ बाहर निकाला और पैन्टी को ऊपर किया और अपने कमरे की तरफ भाग गई मैं यह देख कर हैरान था कि क्या वह मुझे कमरे में आने का इशारा कर रही थी या कुछ और बात है मैं उसके कमरे की तरफ उसके पीछे-पीछे जाने लगा तभी मैनें देखा कि वह अंदर तो चली गई लेकिन अपने कमरे का दरवाज़ा बंद नहीं किया मैं अंदर गया तो देखा कि वह अपने पलंग पर लेटी हुए थी मैं समझ गया कि यह तो मुझसे चुदवाना चाहती है और मैं भी ऐसा मौका कभी नहीं छोड़ना चाहता था

तभी मैं अंदर गया और उसके कमरे के दरवाजे को बंद किया फिर मैं उसके पलंग पर बिल्कुल उसकी बगल में जाकर लेट गया और धीरे से उसकी साडी को ऊपर की तरफ करने लगा और फिर धीरे-से उसकी पैन्टी को नीचे करके उसकी चूत को देखना चालू किया उसकी चूत बिल्कुल साफ थी और बिल्कुल टाइट थी मुझे नहीं लग रहा था कि इसे किसी ने एक बार भी चोदा होगा इसकी सील तो एकदम पैक  थी   Kunwari Dulhan

 

चूत का पानी निकलने वाली कहानी : बहन का सेक्सी फोटोशूट

मैनें फिर उसकी चूत में अपनी दो उंगली डाली और अंदर बाहर करने लगा ऐसा करने से उसकी चूत गरम हो गई और उसके मुहँ से आवाज़ आने लगी उफफफ्फ़… आह… हम…. और तब मेरे हाथ में कुछ गरम-गरम महसूस हुआ मैनें जब अपनी ऊँगली बाहर निकाली तो देखा कि उसके चूत से पानी निकल गया था मैनें फिर उसके ब्लाउज की तरफ हाथ बढ़ाया और उसके ब्लाउज और ब्रा को खोला उसके बब्स भी एकदम टाइट थे

फिर मैं उसके बब्स को ज़ोर-ज़ोर से चूसने और चाटने लगा जिससे वह अपने हाथ से मेरे सर को अपने बब्स की तरफ़ दबाने लगी करीब 20 मिनट के बाद मैनें सोचा कि अब मैं इसको चोद ही डालता हूँ मेरा लंड तो बहुत पहले से ही तैयार था उसकी चूत में जाने के लिये फिर मैं उठा और अपनी पेंट खोलकर अपना लंड बाहर निकाला जैसे ही मेरा लंड बाहर निकला तो वह बोलने लगी बाप-रे इतना बड़ा ? मैनें तो कभी नहीं देखा है

तो मैनें उससे पूछा कि सुनील तुमको नहीं चोदता है क्या ? तो वह बोली कि नहीं उसको कोई तकलीफ है जिससे वह अभी मेरे साथ सेक्स करने को तैयार नहीं है लेकिन उसने तो मुझे उसका लंड दिखाया है वह इससे तो आधा भी नहीं है यह इतना बड़ा लंड अगर मेरे अंदर गया तो मेरी चूत तो पूरी ही फट जाएगी क्योंकि मेरी चूत अभी छोटी है तो मैनें कहा कि तुम चिन्ता मत करो मैं हूँ ना…

फिर उसने कहा ठीक है लेकिन आराम से करना मैनें कहा ओके मेरी जान फिर मैनें उसकी दोनों पैरों को अपने कंधो पर करके उसके बीच बैठ गया और उसके चूत के बीच अपना लंड सटा दिया तो वह मेरे गरम लंड से थोड़ा घबरा गई फिर मैनें उसे तसल्ली दी और अपना लंड उसकी चूत पर रखकर एक ज़ोरदार धक्का मारा जिससे वह उछल पड़ी और चिल्लाने लगी उफ़फ्फ़, आह, हमम्म, लेकिन उसने लंड घुसाने के दौरान वह ऊपर की तरफ चली गई.                               Kunwari Dulhan

जिससे मेरा लंड अंदर तक नहीं जा सका बाहर ही रह गया फिर मैनें उससे कहा कि तेल है क्या जाओ थोड़ा सा तेल लेकर आओ फिर वह उठी और तेल लेकर आई फिर मैनें अपने हाथ में तेल लिया और अपने लंड पर लगाया यह सब चुपचाप से संध्या भी देख रही थी फिर मैनें उसे लेटाया और फिर से अपना लंड उसकी चूत पर रखा और एक ज़ोर का धक्का मारा जिससे मेरा लंड उसकी चूत में आधा अंदर चला गया लेकिन वह छटपटा गई और जोर-जोर से रोने लगी

 

मस्तराम की गन्दी चुदाई की कहानी :  दादाजी के लंड ने मेरी चूत को भोगा

फिर मैनें थोड़ी देर तक अपना लंड उसी तरह रखा करीब 10 मिनट तक कुछ देर बाद वह थोड़ी शांत हुई लेकिन उस वक़्त तक मेरा पूरा लंड खून से भर चुका था उसकी चूत से खून तेजी से बाहर आ रहा था इसका मतलब उसकी चूत अब फट चुकी थी तभी मैनें एक और ज़ोरदार झटका मारा और अपना पूरा लंड उसकी चूत के अंदर घुसा दिया इस बार भी वो छटपटा गई और चिल्लाने लगी खून की रफ़्तार और बढ़ गई थी मैं थोड़ा डर गया था क्योंकि कि वह इतना चिल्ला रही थी ह… उफफफ्फ़… मर गई मैं तो और खून की रफ़्तार को देखकर मैं 15 मिनट तक वैसे ही रहा और देखा                       Kunwari Dulhan

फिर वह थोड़ी शांत हुई और खून का निकलना भी कम हुआ फिर मैं अपना लंड हल्के- हल्के अंदर-बाहर करने लगा थोड़ी देर बाद मैनें अपने लंड की रफ़्तार को बढ़ाया और ज़ोर-ज़ोर से अपना लंड अंदर-बाहर करने लगा जिससे पच-पच की आवाज़ आ रही थी और इस बार खून की जगह पानी निकल रहा था मतलब वह मेरे हर एक झटके के साथ झड़ रही थी ,

चिल्ला-चिल्लाकर बोल रही थी आह… उहह.. ह्म, एमेम… और करो…. और अपनी कमर ऊपर नीचे कर रही थी करीब 20 मिनट के बाद मेरा लंड ठण्डा हुआ और मेरा पानी निकला लेकिन मैनें अपना पानी उसकी चूत के अंदर ही छोड़ दिया था उसके बाद 15 मिनट तक मैं और संध्या बिस्तर पर ही पड़े रहे

फिर मैं उठा और बाथरूम गया जब तक मैनें बिस्तर की तरफ देखा जो कि पानी और खून से खराब हो गया था उस चादर को उठाकर वह कमरे से बाहर जाने लगी लेकिन वो ठीक से चल नहीं पा रही थी और बहुत धीरे-धीरे चल रही थी उसके पैर ज़मीन से जल्दी-जल्दी उठ रहे थे यह सब शायद उसकी चूत फटने का नतीजा था.                       Kunwari Dulhan

इसे भी जरुर पढ़े: पड़ोसन भाभी की XXX तस्वीरे

ये कहानी Kunwari Dulhan Ki Sexy Bra Kholi आपको कैसी लगी कमेंट करे…………………..

2 thoughts on “Kunwari Dulhan Ki Sexy Bra Kholi – कुंवारी दुल्हन की सेक्सी ब्रा खोली

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *