Lund Ka Limca Pilaya Sagi Bahan Ko – लंड का लिम्का पिलाया सगी बहन को

Lund Ka Limca Pilaya Sagi Bahan Ko

हैल्लो दोस्तों, में आज आप सभी को अपनी एक सच्ची घटना के बारे में बताने आया हूँ, जिसके बाद मेरा और मेरी बड़ी बहन का पूरा जीवन बिल्कुल बदल गया और अब में पहले अपना परिचय सभी को देता हूँ और उसके बाद कहानी को शुरू करता हूँ। दोस्तों मेरे घर में मेरी बहन की उम्र 20 साल है, वो मुझसे उम्र बड़ी है और मेरी उम्र 18 साल है। हम दोनों साथ में बहुत खेलते मस्ती मजाक करते थे और देर रात तक हम दोनों साथ में अपनी पढ़ाई भी करते थे। हमारे घर का बरामदा बहुत लंबा होने के साथ साथ उसी में एक टॉयलेट बाथरूम वाला एक रूम है, जिसमे एक पलंग और कुर्सी टेबल रखा हुआ था उस कमरे में हम दोनों हमारे पेपर की पढ़ाई किया करते थे और उसके बाहर एक बड़ा सा हॉल भी था जिसमे हमेशा एक सोफा रखा हुआ रहता था। Lund Ka Limca Pilaya Sagi Bahan Ko.

पूरा घर ए.सी. की वजह से बिल्कुल बंद था, इसलिए कोई भी आवाज़ बिल्कुल भी नहीं आती थी। दोस्तों मेरी बड़ी बहन को लिम्का बहुत पसंद थी पढ़ते वक़्त वो चाय या पानी भी पीने की जगह बस लिम्का ही पीती रहती थी, एक दिन जब हमारे पेपर से पहले हमारी तैयारी के लिए छुट्टियाँ चल रही थी, तो मेरे पापा मम्मी किसी शादी समारोह के लिए हमारे शहर से दो दिन के लिए बाहर दूसरे शहर गये हुए थे, उनके साथ जाने की इच्छा तो हमारी भी थी, लेकिन पेपर की वजह से हम दोनों भाई बहन जा ना सके और हमारे घर काम करने जो नौकरानी आती थी वो 8 बजे वापस चली जाती थी और हम दोनों हमारे एक महीने बाद आने वाले अपने पेपर के लिए तैयारियां कर रहे थे। उस समय रात के दस बजे थे और पढ़ाई करते हुए अचानक से मेरा ध्यान कुर्सी टेबल पर बैठी मेरी दीदी के गदराए हुए बदन पर गया। Lund Ka Limca

दोस्तों तब मैंने पाया कि वो 5.4 इंच की लम्बाई वाली उसका रंग दूध जैसा सफेद उसके सेक्सी फिगर का आकार 35-30-33 था, दिखने में वो बहुत सुंदर बड़ी ही आकर्षक लगती थी, इसलिए घर से बाहर के भी लड़के उसको अपनी खा जाने वाली नजरो से देखा करते। दोस्तों उस समय उसको पता भी ना चला कि में उसको अपनी इस नज़र से देख रहा था, मेरी नजरे उसके उभरे हुए गोरे बूब्स पर थी, जिनको में लगातार घूरकर देख रहा था और धीरे धीरे गरम होकर जोश में आ रहा था।

 

Mast Hindi Sex Story Jarur Padhe: भांजी की चूत की गुलाबी फांके फैलाई

दोस्तों में आप लोगों को बता दूँ कि इससे पहले मैंने कभी उसके बारे में ऐसा कभी नहीं सोचा था इसलिए मेरा लंड आज पहली बार लोहे के सरिये की तरह तन गया और में कुछ देर बाद अपने लंड के ज्यादा गरम हो जाने पर परेशान होकर पेशाब करने के बहाने से उस जगह से उठ गया और में सीधा तुरंत बाथरूम में जाकर मुठ मारने लगा। मेरा लंड उस समय बहुत जोश में था और इससे पहले मुझे मुठ मारने में इतना ज्यादा मज़ा नहीं आया था, क्योंकि में पूरी तरह से गरम होकर जोश में गया था और उसी जोश में मैंने अपनी दीदी की चुदाई करने का मूड बना लिया। मुझे अब काम वासना की वजह से कोई भी रिश्ता नजर नहीं आ रहा था। मेरा अपनी बहन के साथ बहुत कुछ करने का मन हो गया था, इसलिए में भी अपने आप को नहीं रोक नहीं सका।  Lund Ka Limca

अब में बाथरूम से बाहर आकर पलंग पर बैठ गया और फिर मेरे बदन में अपनी दीदी को देखते हुए एक अजीब सी तड़प पैदा होने लगी मुझे कुछ ऐसा महसूस हो रहा था जैसे कि में उसके पास जाकर उसको पीछे से दबोचकर पलंग पर पटककर उसकी जमकर चुदाई कर दूँ और उस समय उसका पूरा ध्यान अपनी किताब में था। मेरी ऐसा कुछ करने की हिम्मत नहीं हो रही थी। तभी मेरा ध्यान लिम्का की खाली बोतल की तरफ चला गया। मैंने उससे कहा कि दीदी में आपके लिए अभी लिम्का लेकर आता हूँ। तो उसने खुश होकर मुझसे कहा कि हाँ में अभी सोच ही रही थी कि यह थोड़ा सा और खत्म करके में बोतल लेकर आ जाती, लेकिन अब तुम जा रहे हो तो चले जाओ, में अपनी यह पढ़ाई तब तक खत्म करती हूँ। अब में उसके मुहं से यह बात सुनकर खुश होता हुआ ऊपर वाले कमरे में भगाकर बोतल लेने चला गया और मैंने अपने काँपते हाथों से फ्रिज को खोलकर उससे 500 मिलीग्राम की एक लिम्का की बोतल को निकालकर उसमे मैंने मेरे पापा की एक पास ही पड़ी हुई वोड्का को भी में उसमे मिलाने लगा यह सब काम करते हुए मेरा दिल ज़ोर से धक धक कर रहा था और हड़बड़ाहट में मैंने 150 मिलीग्राम लिम्का पीकर उसमे करीब 130 मिलीग्राम वोड्का मिला दी, उसके बाद में सब कुछ वैसे ही छोड़कर में तुरंत नीचे चला गया और अपनी दीदी के सामने एक घुट पीते हुए मैंने उसको वो लिम्का की बोतल हाथ में थमा दी। Lund Ka Limca

तो उसने ओह नहीं तुम्हे बड़ी बोतल लानी थी यह बात मुझसे कहते हुए उसने अपनी आदत के अनुसार करीब 400 मिलीग्राम को एक ही साँस में गटागट करते हुए पी लिया और उसके बाद उसको थोड़ा सा अजीब सा स्वाद महसूस हुआ और उसने इससे पहले भी किसी पार्टी में वोड्का का पेग पी रखा था, इसलिए उसको थोड़ी ही देर में सब कुछ समझ में आ गया कि उसने अभी क्या पिया है वो हिचकी लेते हुए पलंग पर बैठ गई और फिर उसके बाद वो रोने लगी। फिर में उसके पास जाकर उसकी पीठ को सहलाते हुए उससे पूछने लगा कि क्या हुआ दीदी? तब वो रोते हुए बोली कि प्लीज़ तुम मेरे साथ कुछ भी मत करना, में तुम्हारी बहन हूँ। में सब कुछ बहुत अच्छी तरह से समझ चुकी हूँ। Lund Ka Limca

 

Chudai Ki Pyasi Ladki Ki Chudai Ki Kahani: नई नवेली दुल्हन को सेक्स की प्यास

अब में उससे बोला कि में तो आपको थोड़ा सा आराम देना चाहता था, क्योंकि इतनी देर से आप पढ़ते हुए थक गई होंगी ना, इसलिए यह बात सोचकर मैंने आपके साथ यह सब किया। अब वो थोड़ी निढाल सी हो गई और लेट गयी। उसी समय मैंने ए.सी को रिमोट से बंद कर दिया उसके बाद में उससे कहने लगा कि लगता है आपको वोड्का का ज़्यादा नशा चड़ गया है, इसलिए अब आपको शायद गरमी लग रही होगी? लेकिन वो मुझसे कुछ ना बोल सकी और में उससे बोलता गया। में आपके थोड़े से कपड़े कम कर देता हूँ जिसकी वजह से आपको आराम मिलेगा ज्यादा गरमी महसूस नहीं होगी।

फिर वो एक बार फिर से सुबकते हुए रोने लगी, लेकिन तब भी मैंने उसकी पेंट का बटन खोल दिया और पेंट की चेन को मैंने धीरे धीरे खोलते हुए पेंट को अब नीचे खींचने लगा और उसकी गोरी गदराई हुई जांघो के अंदर के और ऊपरी हिस्से पर भी में हाथ फेरने लगा। दोस्तों उस समय उसका एक हाथ बड़ी मुश्किल से अपनी पेंट का एक ऊपरी कोना पकड़ पाया और दूसरा हाथ सर को पकड़े हुए था उसी समय मैंने एक झटके से उसकी पेंट को खींचकर उसके पैरों को अब पूरा नंगा कर दिया और तभी उससे बोलते हुए कि लाओ में आपके पैरों की मसाज कर देता हूँ। में उसके पैरों के तलवे सहलाने लगा। अब उसने मुझसे कहा कि उसको चक्कर आ रहे है। फिर मैंने उसको एक तरफ मुँह किए लेटाकर उसके पास पीछे से लेटते हुए मैंने उससे कहा कि अभी यह सब थोड़ी देर में अपने आप चले जाएँगे, लाओ में आपकी पीठ सहला देता हूँ और अब में उसकी टी-शर्ट को उतारने लगा। टीशर्ट को उतारते ही मेरी ख़ुशी का कोई ठिकाना नहीं था। उसके गोरे गदराए हुए बदन पर वो लाल रंग की ब्रा, जिसमें कसे हुए उसके बूब्स बाहर आने को तड़प रहे थे और वो सेक्सी द्रश्य देखकर में बड़ी चकित होकर ललचाने लगा था।    Lund Ka Limca

दोस्तों मैंने महसूस किया कि उसको तब कुछ हल्का सा होश था और मैंने उसकी पीठ को सहलाना शुरू कर दिया। में उससे कहने लगा कि दीदी में आपको एकदम शांत करने की पूरी कोशिश करूँगा और इतना कहकर मैंने अपने सारे कपड़े उतार दिए और उसको सीधा लेटाते हुए अपने एक पैर को उसकी जांघो पर रखते हुए मैंने अपने एक हाथ को उसकी कमर के नीचे ले जाकर उसकी ब्रा के हुक को खोलकर ब्रा को भी अब उतारकर में अपने सामने उसके मुलायम गोरे बूब्स को देखकर अपने होश पूरी तरह से खो बैठा। में उसके बूब्स पर टूट पड़ा और में उनको ज़ोर ज़ोर से दबाने लगा और अपने दूसरे हाथ से उसकी जांघ पर हाथ फेरने लगा। में उसके कामुक जिस्म के बड़े मस्त मज़े लेने लगा और उसको में अब हर एक जगह पर छूने के बाद अब उसकी पीठ को चाटते हुए मैंने उसकी पेंटी में अपने एक हाथ को डालकर उसके कूल्हों को दबाने लगा। फिर कुछ देर दोनों कूल्हों को अच्छे से मसलने के बाद मैंने उसकी गांड में उंगली करना शुरू किया और अपने दूसरे हाथ को मैंने उसकी कमर पर लपेटकर उसको अपने ऊपर लेटाते हुए में उसकी चूत के दाने को रगड़ने लगा। तब मुझे महसूस हुआ कि मेरी दीदी की चूत बिना बालों की एकदम चिकनी बहुत गरम होने साथ साथ होश में आने की वजह से रस से भी भरी हुई थी। Lund Ka Limca

 

New Desi Sex Kahani : भैया मेरी चूत में तेरा लंड ही रहेगा

अब वो अपनी चूत के पास मेरा हाथ महसूस करके बुदबुदाने लगी आह्ह्ह्ह ऊफफ्फ्फ्फ़ स्स्सीईईईई जाने दो मुझे, प्लीज अब बस करो, छोड़ दो मुझे, नहीं इसके आगे कुछ भी मत करना। अब मैंने उसकी चूत में बड़ी तेज से अपनी एक उंगली को पूरा अंदर डालकर अपनी ऊँगली को लगातार अंदर बाहर करना शुरू कर दिया, में अपनी ऊँगली से चुदाई करता रहा जिसकी वजह से चूत मुझे कुछ देर बाद पहले से ज्यादा चिकनी महसूस हुई और में अपने दूसरे हाथ से उसकी गांड में उंगली करता रहा, थोड़ी देर में उसने झटके से अपने दोनों पैरों को चिपका लिया जिसके बाद में उसके ऊपर लेटकर उसके दोनों हाथों को अपने हाथों से दबोचकर उसके रसभरे नरम होंठो को चूसने लगा था। कुछ देर तक इन सभी का बड़ा मस्त मज़ा लेने के बाद मैंने उसके बूब्स को अब ज़ोर से दबाना और चूसना शुरू कर दिए।

फिर मैंने उसकी पेंटी को पूरा नीचे उतारकर एक कोने में फेंक दिया और अब में उस जोश से भरी कामुक चूत को बड़ी ही गरम जोशी से चाटने लगा। चूसते समय में अपनी जीभ से दाने को भी टटोल रहा था और मेरे ऐसा करने से उसका पूरा जिस्म कांप उठा था और वो थोड़ा सा छटपटाने लगी, उसके मुहं से सिसकियों की आवाज निकलने लगी थी। दोस्तों मैंने समय बिल्कुल भी समय को बर्बाद किए बिना उसकी चूत के मुहं पर अपने लंड का टोपा रखकर मैंने अपना लंड एक ही बार में जोरदार तेज धक्के के साथ पूरा अंदर डाल दिया और फिर में ज़ोर ज़ोर से धक्के देकर अंदर बाहर करने लगा।   Lund Ka Limca

फिर तभी मुझे कुछ महसूस हुआ जिसकी वजह से मुझे बड़ा आश्चर्य हुआ कि वो वर्जिन नहीं थी और मेरा लंड उसकी पहले चुदी हुई चूत में बड़े आराम से अंदर बाहर हो रहा था और वो उसमे पूरा समा गया। यह बात सोचकर पहले तो मुझे अपनी बहन पर बहुत गुस्सा आया और मैंने इसलिए पूरे ज़ोर से धक्के देकर उसको चोदना शुरू कर दिया, कुछ देर के बाद उसको उल्टी आना महसूस होने लगा और उसने पलंग के एक साइड में लटकते हुए वहीं पर उल्टी कर दी।

फिर मैंने उसको पीछे से एक हाथ उसके बूब्स के ऊपर से पकड़े हुए और अपने दूसरे हाथ को पीछे से ही उसके पैरों के बीच से उसकी चूत को पकड़ते हुए मैंने उसको उठाया और बाथरूम में ले गया। वहाँ उसने थोड़ा खुद को सम्भाला और पानी से मुँह को धोकर कुल्ला किया, जिसकी वजह से अब उसको थोड़ी सी सुध आने लगी थी, लेकिन मैंने उसी तरह उसको उसकी चूत और बूब्स से पीछे से उठाया और अब में उसको सोफे पर ले गया और उल्टा पटककर एक तरफ मुँह किए लेटाकर मैंने उसकी चूत में पीछे से अपने लंड को दोबारा अंदर डालकर ज़ोर से धक्के देकर चोदना शुरू किया। फिर कुछ देर बाद मुझे महसूस हुआ कि अब मेरी दीदी भी मेरा साथ देने लगी थी और वो अपने मुहं से आह्ह्ह्ह ऊफफ्फ्फ्फ़ की करहाने की आवाज़ निकालने लगी। फिर थोड़ी देर बाद में झड़ जाने की वजह से शांत हो गया और मैंने अपने वीर्य का फुहारा उसकी चूत के अंदर ही निकाल दिया उसी समय वो अपनी चूत के दाने को अपने एक हाथ से रगड़ते हुए कुछ ही सेकिंड के बाद झड़ गई और वो शांत होकर बिल्कुल निढाल होकर पड़ गई।     Lund Ka Limca

 

लंड खड़ा कर देने वाली कहानी : मामी का दीवाना मैं बचपन से हूँ

फिर करीब आधे घंटे तक मेरी बाहों में पड़े रहने के बाद जब उसको पूरा होश आ गया, तब मेरे पूछने के बाद उसने मुझे बताया कि पिछले साल एक उसी की क्लास में पढ़ने वाले लड़के के साथ उसका पूरे तीन महीने तक चक्कर चला था और उसी लड़के ने मेरी दीदी को जमकर चोदा। उसके बाद वो लड़का कहीं दूसरे शहर में जाकर रहने लगा और तभी से वो सेक्स के लिए बहुत तड़प रही थी। आज इतने समय के बाद उसको सेक्स का पूरा पूरा मज़ा मिलने के साथ साथ पूरी संतुष्टि मिली है वरना उसने अपनी चूत में बहुत बार ऊँगली डालकर उसको शांत करने की कोशिश की, लेकिन उसको वो मज़ा नहीं आया जो आज आया है।

दोस्तों उस समय मैंने भी उसकी वो पूरी बातें सुनकर मन ही मन सोचा कि यह उसकी अपनी लाइफ है वो बड़ी हो चुकी है और उसका अपना अच्छा बुरा सब बहुत अच्छी तरह से पता है, वो इतनी समझदार तो है और आख़िर आज मैंने भी तो उसकी जमकर चुदाई के मज़े लिए है यह सभी बातें अपने मन ही मन सोचकर मैंने उसको कुछ भी नहीं कहा और उसके बाद हम दोनों एक दूसरे से चिपककर सो गए, लेकिन दोस्तों हमारी उस पहली चुदाई के बाद यह सिलसिला शुरू हो गया था और तब से हम अक्सर देर रात को अकेले में पढ़ने के बहाने ही अपने उसी कमरे में चुदाई करते हुए बड़े मस्त मज़े लेते और उन दिनों का ध्यान जिसमे चुदाई करने से में बहन माँ बन जाए या कंडोम को में अपने इस काम लेने लगा और हम पूरा ध्यान रखते थे कि हमारे ऊपर किसी को भी शक ना हो जाए और हम कभी चुदाई करते हुए पकड़े ना जाए, इन बातों का हम दोनों हमेशा पूरा ध्यान रखते थे और हम पूरी तरह से हर एक तरफ से सतर्क रहकर यह काम किया करते थे । Lund Ka Limca

इसे भी जरुर पढ़े: भाई को दी मेरी पैंटी गन्दी करने की सजा

ये कहानी Lund Ka Limca Pilaya Sagi Bahan Ko आपको कैसी लगी कमेंट करे……………………….

39 thoughts on “Lund Ka Limca Pilaya Sagi Bahan Ko – लंड का लिम्का पिलाया सगी बहन को

  1. रुखसाना

    मैं रोज रोज पीती हु नमकीन और करवा लगती है

    Reply
  2. satiooo

    रुखसाना तुम अपने भाई के लण्ड चूस के वीर्य पीये हो कभी अगर पीती हो तो उसके टेस्ट बताओ ओर नही पीती हो तो पीने के बाद बताना मैं अपने चाची को रोज रात में चोदता हु उसके बाद वीर्य पिलाता हु

    Reply
  3. रुखसाना

    मेरी चचेरा भाई ही मेरी पति है मेरी निकाह मेरी अब्बा के भाई के लड़के से हुई है और हम सब साथ में रहते हैं दो बच्चे मेरे पति के है बाकी के बच्चे मेरी भाई जान के है अब तो दोनों मेरी पति है

    Reply
  4. रुपाली

    तुम इतने बच्चों को कैसे रखोगी और तुम्हारे पति को सक नही होता हैं जब अपने भाई से चुदवाती हो तब तुम्हारे पति कहा रहते हैं

    Reply
  5. रुखसाना

    रुपाली तुम बहुत देर कर दी बताने में मेरे भाई ने चोदनेे पहले से पहले ही बोला था कि तुम वादा करो कि निकाह के बाद पहला बच्चा मेरे से पैदा करोगी अभी तक दोनों भाई से चुदवा के आठ बच्चे को जन्म दिया हु अब क्या करूँ

    Reply
  6. रुपाली

    हा रुखसाना तुम अपने जीवन में बहुत तरकी करोगी लेकिन ध्यान रखना कहि तू माँ ना बन जाये चुदाई करो लेकिन भाई के बच्चों को अपने पेट में मत पालो समझी

    Reply
  7. रुखसाना

    हाय तौबा आज के दुनिया में बहन को अपने लंड पर नही चड़ाया तो समझो कुछ नहीं किया जी मेरे दो भाई है और मैं दोनों के लंड से खूब चुदाई कराती हु

    Reply
  8. ramiya

    मैं अपने घर में चुदाई करती हूं ओभी अपने भाई से लिम्का तो रोज रोज पीती हु

    Reply
  9. satish00

    दोस्तों मैं अपनी बड़ी दीदी को लेकर उनके ससुराल जा रहा था वहाँ पहुंचा तो मेरे जीजा किसी काम से मुम्बई जा रहे थे वो मुझे वही रुकने को बोल के चले गए जब रात हुआ तब दीदी मुझे अपने साथ सुलाई और करीब एक बजे मैं अपने लंड पर कुछ महसूस हुआ और जब देखा तो मेरा लंड दीदी चूस रही थीं दोस्तो मैं तीन दिन रहा और दीदी को 15 बार लंड का लिम्का पिलाया

    Reply
  10. almira

    भाई की लिम्का अच्छी हो या बुरी फ्री में पीने को मिलती हैं पीती रहो और भाई जान आप लोग भी अपनी बहनों की चूत चुसो पता नहीं कौन किसका मिया बने

    Reply
  11. अमर

    साली तु अपने भाई से चुदाई करती हैं एक बार मेरे से चुदवा के देख तेरी चुत और मुँह वीर्य से भर दूँगा

    Reply
  12. हमीमा

    मैं अपने भाई जान से चुदवा रही हूं लिम्का भी पीती हु लेकिन भाई जान मेरी चुत की पानी नही पीते हैं मै क्या करूँ

    Reply
  13. hoor

    हा आज के भाई होते ही ऐसे हैं बहन चाहे या नहीं वीर्य पिला ही देते है बस एक बार बहन चुदवा ली तो वो लिम्का जरूर पिलायेंगे मेरी जैसी बहन हो तो भाई को भी चुत की लिम्का पीने पर मजबूर कर देगी

    Reply
  14. हसीन जहां

    हा वीर्य को पीने से बहुत फायदा होगा अगर वीर्य को नियमित रूप से पीये तब मैं भी पीती हु मुझे फायदा भी महसुस हो रही हैं जैसे की चिरचिरापन नही होना काम में मन लगता है और भी बहुत फायदा है

    Reply
  15. riyana

    मैं अपने घर में भाई से चूदवाती हु लेकिन वो मेरी चुत की पानी नही पीते हैं और मुझे रोज अपना लिम्का पिलाता है

    Reply
  16. ilmiya

    नही भाई लोग बहुत कम चुत की पानी पीते है लेकिन सब भाई लंड की पानी जरूर पिलाते है अपने बहन को

    Reply
  17. ishad

    सिर्फ़ भाई का वीर्य करवा लगता है जो भाई अपनी खाती पीती बहन की चूत चुस्ता है उसको कैसा लगता होगा ये सब बहन सोचती हैं उनको भी तो चुत करवा लगता होगा फिर भी वो चुत पीते हैं दोनो को ध्यान रखना चाहिए और दोनों चुसो पियो

    Reply
  18. riyana

    वीर्य तो बाद में पीते हैं पहले तो लंड मुँह में जाते ही नमकीन लगने लगती हैं

    Reply
  19. रिया शर्मा

    हा सही में फल फ्रूट जूस पीने वाले का वीर्य मीठी चटनी होती है लेकिन नमकी तो सब मे होती है

    Reply
  20. d k gupta

    जान मैं शाकाहारी हु मैं रोज फल फ्रूट जूस पीना पसंद करता हु एक बार मेरा वीर्य पी के देखो कितना मीठा लगेगा

    Reply
  21. sariya

    ha rupali ji aap sahi kahi ye bhai behan chudai karne wale kabhi apani behan se puchhate hai kya ki unki virya ka test kaisa lgta hai bas unko to muh me dalne se matlab hota hai baki behan samjhe

    Reply
  22. अख्तियार

    नही मैं कैसे मानु मै सब खाता पिता हु और मैं दो साल से अपने चचेरी बहन से लंड चुसवाता हु वीर्य भी पीती हैं लेकिन वो कभी शिकायत नहीं किया है

    Reply
  23. रुपाली

    वो तो मर्दो पर निर्भर करता है उन के खान पान पर निर्भर करता है जो फल फ्रूट जूस पीना पसंद करते हैं उनकी वीर्य मीठी नामकी होती हैं और जो दारू शराब मांस मछली का सेवन करते हैं उनकी वीर्य करवा नमकीन लगती हैं

    Reply
  24. rehana khatun

    सोते हुए मेरी भाई जान मुठ मार कर मेरी कमीज में डाल दिये मैं अभी वीर्य पी नही हु कैसा टेस्ट होता है मुझे जरूर बताये

    Reply
  25. शीला

    मैं अपने जीवन में एक बार अपने भाई की लंड चूसी हु और लंड की लिम्का भी पिया हु

    Reply
  26. मुमताज

    मैं अपने घर में अपनी दो भाई जान के लंड चुस्ती हु और लिम्का पीती हु

    Reply
  27. khatuna begam

    मैं निकाह के बाद जब अपने घर आई टैब अपने छोड़े भी जान की लण्ड चुसने लगी अब मुझे लगता है कि भाई जान से निकाह कर लूं

    Reply
  28. sahid

    meri didi jan ne mere Land ko chus chus ke roj limka piti hai ab jab tak mein didi jan ko rat me Land chudwa nahi deta tab tak mujhe nind nahi aata hai

    Reply
  29. sabnam

    मै अपने घर में दोनों भाई जान के लंड के लिम्का पीती हु लेकिन चुदाई बड़े भाई जान के साथ ही करती हूं

    Reply
  30. imran

    mein apni didi ko ek rat lund chudwa rha tha tabhi meri choti behan andar Aagai us rat mein dono ko lund ki limka pilaya ab dono roj piti hain….

    Reply
  31. राशिद

    मैं भी चाहता हूं कि मेरी दीदी मेरे लण्ड का लिम्का पिये लेकिन दीदी मेरे साथ रात में नही सोती हैं मैं क्या करूँ की मेरी दीदी मेरे लण्ड को पीने लगे

    Reply
  32. रबिया बेग़म

    मेरी निकाह मेरी चचेरे भाई जान से हुई हैं लेकिन मैं अपने सगे भाई जान की लिम्का पीती हु वो भी चुदवाने के बाद

    Reply
  33. fatima

    मैं रोज रात में अपने भाई जान की लिम्का पीती हु सब भी चाहते हैं कि उनकी बहन उनका लिम्का पिये लेकिन कुछ डर के मारे नही बोल पाते अगर बहन चाहे तो पी सकती हैं

    Reply
  34. शाज़िया

    मैं शाजिया हु मैं पहले जब सुनती या कहानी में पढ़ती थी कि कोई औरत या लड़की सच में वीर्य पीती है या झूठ बोलती है लेकीन जब मेरी भाई जान एक दिन जबरदस्ती मेरी मुह में लंड डाल के मुझे वीर्य पिलाये उसके बाद से मैं रोज लंड की लिम्का पीने लगी जो मेरी नई सहेलिया हैं वो भी यही सोचती होगी लेकिन एक बार पिलोगी तो आपको और कुछ अच्छा नहीं लगेगी और भाई जान की वीर्य हो तो उसका बात ही कुछ और हैं

    Reply
  35. नाज़िया

    मैं भी अपनी भाई जान की लंड की लिम्का पीती हु बहुत गढ़ा और नमकीन लगता है लेकिन मजा बहुत ज्यादा आता है

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *