पति के लंड के लिए चूत का जुगाड़ किया मैंने – Pati Ke Lund Ke Liye Chut

पति के लंड के लिए चूत का जुगाड़ किया मैंने

दोस्तों मेरा नाम संजना है और मेरी उम्र 30 साल है | मेरे दूध बहुत बड़े हैं गोल है जो मेरे पति को को बहुत अच्छे लगते हैं | मेरे पति मुझे रोज रात को जम कर दूध मसल मसल कर चोदते थे | मेरे बदन का साइज़ 38-34-40 है और मैं दिखने में मस्त गोरी हूँ | अब मैं आप को अपने पति के बारे में बताती हूँ वो एक कंपनी में जॉब करते हैं और साथ ही वो मेरी मस्त चुदाई भी करते हैं इसीलिए मैं उनसे बहुत खुश रहती हूँ मेरा पति का लंड भी बड़ा और मोटा है जो किसी भी भोसड़ी को फाड़ कर भोसड़ा बना सकता है | मैं इसिलिय बता रही हूँ क्यूंकि ऐसा मेरे साथ हो चुका है जब पति के साथ पहली चुदाई हुई थी और वो दिन मेरा शादी का दिन था | मेरी पहली सुहागरात और उस रात मेरे सारे कपड़े उतार कर मेरी पहली चुदाई की थी | मैंने शादी के पहले कभी अपनी चूत में किसी का भी लंड नही लिया था और यही वजह थी की सुहागरात के दिन मेरी चूत फट के लाल हो गई थी | पति के लंड के लिए चूत का जुगाड़ किया मैंने.

अब मैं आप को अपनी दोस्त के बारे में बताती हूँ – मेरी दोस्त का नाम पुष्पा है उसके दूध मस्त और टाइट हैं वो मेरे घर अक्सर आया करती थी तो मैं उसे सेक्स के बारे में बताती और बताती कि किस तरह से मेरे पति ने आज मेरी चूत को चोदा | उसे मुझसे ये सब बात सुनना बड़ा ही पसंद था | एक दिन उसने मुझसे कहा कि क्या तुम मुझे सेक्स के बारे में बताओगी  ? तो मैंने भी मना न करते हुए हाँ कर दिया और उसके बाद वो अपने घर चले गई | मैंने सोचा कि जिस दिन मेरे घर में मेरे पति नहीं होंगे तो मैं पुष्पा को अपने घर बुलाऊंगी और उसके साथ सेक्स करुँगी | फिर रात को मेरे पति ऑफिस से आये और मेरी मस्त चुदाई की और मैंने सोचा कि मेरे पति ऑफिस के काम से बाहर जाया करते हैं तो जब जायेंगे तब मैं पुष्पा के साथ जम कर सेक्स करुँगी | अगली सुबह पुष्पा मेरे घर आई  तो हमने खूब सारी बात किये और फिर मैंने बताया कि जिस दिन मैं तुम्हे बुलाऊंगी उस दिन आना तब मैं तुम्हे असली सेक्स के बारे में बताउंगी | अब मैं उस दिन का इन्तेजार करने लगी जिस दिन मैं उसके दूध जम कर चूसूं | कुछ दिन बाद मेरे पति ने मुझसे कहा कि यार मुझे ऑफिस के काम से कुछ दिन बाहर जाना पड़ेगा और ये बात मैंने पुष्पा को बताया और जब मेरे पति चले गए तब मैंने पुष्पा को अपने घर बुला ली | जब पुष्पा घर आई तो मैंने उसे बैठने को कहा और फिर मैं उसके लिए चाय बनाने चली गई | उसके बाद हम दोनों ने चाय पिए |                 “पति के लंड के लिए चूत”

 

मस्त हिंदी पोर्न स्टोरीज : मोहल्ले की रंडी आंटी का गांड

जब हम सेक्स के बारे में बात कर रहे थे तब 10 मिनट के बाद मैंने उसके होंठो को चूमने लगी और वो भी मेरा साथ देते हुए मेरे होंठ को चूमने लगी | फिर मैंने उसके होंठ में अपने होंठ चिपका दिए और उसकी लार पी गई | फिर मैंने धीरे धीरे उसके सारे कपड़े उतार दी | अब हम दोनों सिर्फ ब्रा और पेंटी में थी | फिर मैं उसके दूध को मसलने लगी और उसके दूध मेरे दूध से ज्यादा मस्त थे क्यूंकि उसके दूध एक दम कसे हुए थे | उसके दूध मुझे मसलने में बहुत मजा आ रहा था | फिर मैंने उसकी चूत में ऊँगली डाल कर अन्दर बाहर करने लगी तो उसके मुंह से आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह की सिस्कारियां निकलने लगी |

मैं जोर जोर से उसकी चूत में अपनी जुबान घुसा कर अन्दर बाहर करने लगी | फिर उसकी चूत से गरम पानी निकने लगा था और उसने कहा मैं झड़ गई हूँ | उसके बाद मैंने उसे अपनी चूत चाटने को कहा तो वो अपनी जीभ मेरी चूत में डाल कर अन्दर बाहर करने लगी और मैंने उसके मुंह में मूत दी | वो भी सेक्स के नशे में सब पी गई और कहा कि तेरी चूत से अब जो भी निकलेगा वो सब पी जाउंगी | इतना कह कर वो मेरी चूत को रगड़ रगड़ कर चाटने लगी और उसके बदन से पसीना निकलने लगा तो उसने कहा कि काश जीजा जी होते तो आज उनसे चुद्वाती और उनके लंड का मजा भी लेती | मैंने भी कहा कि अगर आज होते तो मैं पक्का तुझे चुदवा देती | इतना कह कर मैंने अपनी तीन ऊँगली उसकी चूत में घुसा दी और अन्दर बाहर करने लगी | तभी मेरे पति पता नहीं क्या लेने आ गए थे और सारी बाते बाहर खड़े हो कर सुन रहे थे | जब मेरी नजर उन पर पड़ी तो मैंने देखा कि वो अपने लंड को हाँथ में पकड़ कर हिलाने लगे |             “पति के लंड के लिए चूत”

 

चुदाई की प्यासी गरम लड़की की कहानी : कॉलेज गर्ल की बिकनी उतार ठुकाई

मैंने अपने पति से कहा कि इसकी चूत में एक ही शॉट में लंड अन्दर डाल कर चोदना | वो पेट के बल बिस्तर पर लेटी थी और मेरे पति ने आ कर अपने लंड पर थूक मॉल कर और मैंने पुष्पा के पैरो को थोडा सा फैला दिया | फिर उहोने उसकी चूत के मुंह के मुंह में अपना लंड रख कर जोर से धक्का मारा और उसकी चूत में लंड घुस गया तो उसके मुंह से जोर से चीख निकलने लगी | तभी मैंने उसके मुंह में अपने होंठ रख कर चूसने लगी | उसने पलट कर देखा तो उसकी चूत में मेरे पति का लंड घुसा हुआ था और वो भी आधा | फिर मेरे पति ने अपना लंड बाहर निकाल लिया | तो उसने देखा कि उसकी चूत से खून निकल रहा था तो वो डर गई | मैंने उसे समझाते हुए कहा कि अब कुछ नहीं होगा बल्कि मजा आएगा | फिर वो मेरे पति के लंड अपने मुंह में ले कर अन्दर बाहर करते हुए मस्त हो कर चूसने लगी और मैंने तभी उसकी गांड में थूक लगा कर अपनी ऊँगली से अन्दर बाहर करने लगी |                         “पति के लंड के लिए चूत”

वो मेरे पति के लंड को बहुत मजे से ले कर चूसे जा रही थी और मेरे पति उसके मुंह को ही चोदने लगे तो उसने कहा आज जो भी लंड से निकलेगा सब पी जाउंगी | उसके बाद मेरे पति ने उसे लेटा कर उसकी चूत में लंड डाल कर जोर जोर से चोदने लगे जिससे उसके मुंह से आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह की सिसकियाँ निकलने लगी | चुदाई की आवाज़ से पूरा कम्ररा गूंजने लगा था | उसके बाद मेरे पति बेड पर लेट गए और मेरी दोस्त को लंड पर बैठने को कहा और वो भी मेरे पति के लंड पर बैठ कर चुदने लगी और 10 मिनट तक चुदती रही |

 

अन्तर्वासना हिन्दी सेक्स स्टोरीज :  सेक्स करने का तरीका दीदी से सिखा

उसके बाद मेरे पति ने उससे खड़ा होने को कहा और जब वो खड़ी हो गई तो मेरे पति ने उसकी गांड में थूक लगा कर अन्दर बाहर करने लगे जिससे वो आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए सिस्कारियां भर रही थी | फिर वो कुछ ही देर में ठाक गई  और झड़ गई | उसने कहा कि अब मैं और चुदने के लायक नही हूँ लेकिन मेरे पति का लंड अब भी तना हुआ था | तो वो फिर मेरी चूत की चुदाई करने लगे और मैं आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए सिस्कारियां लेने लगी | वो बड़े ही प्यार से देख रही थी | मैंने उससे कहा कि मेरी चुदाई देखते हुए तुम अपनी चूत को मेरे सामने सहलाओ |                                       “पति के लंड के लिए चूत”

उसने फिर अपनी चूत को मेरे मुंह में ही रख दिया और मैं उसकी चूत को चाटने लगी और ऊँगली से अन्दर बाहर भी करने लगी | मेरा पति जोर जोर से मेरी चूत को चोद रहा था और मैं उसकी चूत को जोर जोर से ऊँगली अन्दर बाहर करते हुए चाट रही थी | अब उसकी चूत फिर से चुदने को तैयार थी तो मैंने अपने पति से कहा की चोदो इसे | तो मेरे पति ने उसकी चूत में अपना लंड अन्दर डाल कर चोदने लगा और वो आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए सिस्कारियां लेने लगी | मेरे पति जोर जोर से उसकी चूत को चोद रहा था और वो आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए सिस्कारियां ले रही थी | उसके बाद मैं और मेरी दोस्त दोनों साथ में लेट गए और अब मेरा पति दोनों की चूत को चोदने लगे बारी बारी से चोदते हुए  झड़ गए |                                    “पति के लंड के लिए चूत”

मस्तराम की गन्दी चुदाई की कहानी : कुंवारी चूत को चोद कर गर्मी मिटाई

तो दोस्तों इस तरह से मेरी दोस्त की चुदाई भी मेरे पती से हो गई और मैं तो रोज ही अपने पति से चुद्वाती हूँ |

दोस्तों आपको ये कहानी पति के लंड के लिए चूत का जुगाड़ किया मैंने कैसी लगी कमेंट करे………………………..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *